नई दिल्ली. इंस्टेंट मैसेंजिंग एप व्हाट्सएप ने ग्रुप चैट में एक और नया फीचर जोड़ा है. इस फीचर के जरिए व्हाट्सएप ने ग्रुप एडमिन को पहले से भी ज्यादा पावरफुल बना दिया है. इस फीचर के जरिए अब ग्रुप का एडमिन यह डिसाइड कर पाएगा कि ग्रुप में कौन मैसेज कर सकता है. यह फीचर सभी आईओएस, एंड्रॉयड और विंडो फोन में व्हाट्सएप यूज करने वाले ग्रुप एडमिन्स को दिया गया है. इससे अब हर कोई मैसेज नहीं कर पाएगा.

अगर ग्रुप एडमिन को लगता है कि किसी व्यक्ति के मैसेज नहीं आने चाहिए तो वह उसे मैसेज के लिए प्रतिबंधित कर देगा. प्रतिबंधित किया गया व्यक्ति, टैक्स्ट, फोटो, वीडियो, जीआईएफ आदि कुछ भी ग्रुप में शेयर नहीं कर पाएगा. हालांकि, ग्रुप एडमिन जिन लोगों को प्रतिबंधित करेगा वे भी बगैर किसी रोक-टोक के ग्रुप मैसेज पढ़ सकते हैं. सिर्फ उनका मैसेज करने का अधिकार छिन जाएगा.

ग्रुप एडमिन ऐसे कर पाएंगे नए फीचर का इस्तेमाल
अगर आप किसी ग्रुप के एडमिन हैं तो आपको यह अधिकार होगा कि किस यूजर को मैसेज करने से रोकना है. इसके लिए ग्रुप इंफो (Group info) में जाकर ग्रुप सेटिंग्स पर क्लिक करें. यहां आपको सैंड मैसेज का टैब दिखाई देगा. इस टैब के जरिए ही आप तय कर पाएंगे कि किसे मैसेज करने का अधिकार देना है और किसे बाहर रखना है. बताया गया है कि इसे यूजर्स की सहूलियत के लिए लाया गया है. कुछ लोग जो ग्रुप में अफवाह या ऊल जुलूल मैसेज करते हैं उनपर नकेल कसने के लिए यह फीचर कामगर साबित होगा. अभी हाल ही में व्हाट्सएप ने Mark as Read फीचर एड किया है जिससे यूजर बगैर मैसेज पढ़े ही मार्क कर सकते हैं. 

झारखंडः WhatsApp के जरिए मुकदमा चलाने पर निचली अदालत पर भड़का सुप्रीम कोर्ट, कहा- यह मजाक है क्या

उत्तर प्रदेशः WhatsApp पर घंटों ऑनलाइन रहती थी दुल्हन, दूल्हे ने शादी वाले दिन तोड़ा रिश्ता

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App