कोलकाता. डिजिटल दुनिया में तहलका मच गया जब मद्रास की हाई कोर्ट ने चीनी कंपनी के स्वामित्व वाली ऐप टिक टॉक को बैन करने के आदेश दिए. इसी के बाद गूगल के प्ले स्टोर और एप्पल के एप स्टोर से भी ऐप को हटा दिया गया. हालांकि इतना सब होने के बाद भी लाखों फैंस का उत्साह कम नहीं हुआ. गुरुवार को प्रतिबंध के बाद टिकटॉक को कैसे डाउनलोड किया जाए (How to Download Tik Tok After Ban) सबसे अधिक ट्रेंडिंग गूगल खोज बना.

मद्रास उच्च न्यायालय की मदुरै पीठ के प्रतिबंध के बाद ऐप स्टोर और प्ले स्टोर से युवाओं के बीच लोकप्रिय चीन की कंपनी के स्मार्टफोन ऐप टिक टॉक को हटा दिया गया है और सुप्रीम कोर्ट ने इस आदेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है. आईटी डिपार्टमेंट ने इसके बाद टेक दिग्गजों गूगल और एप्पल से अपने स्टोर से ऐप हटाने का अनुरोध किया.

टिक टॉक यूजर्स को गाने, म्यूजित और ग्राफिक्स जैसे विभिन्न फीचर्स के साथ शॉर्ट वीडियो बनाने का मौका मिलता है. ये वीडियो सोशल मीडिया पर साझा की जा सकती है. लेकिन कई लोगों ने महसूस किया कि इसकी मदद से अश्लीलता का समर्थन किया जा रहा है और बच्चों को यौन व्यवहार के लिए उजागर करता है.

ऐप बुधवार शाम से प्ले स्टोर और ऐप स्टोर पर उपलब्ध नहीं है, हालांकि कई लोग अभी भी इसे थर्ड-पार्टी प्लेटफॉर्म के माध्यम से डाउनलोड कर सकते हैं. ऐसे असत्यापित स्रोतों से सामग्री डाउनलोड करना असुरक्षित है. ऐप के बैन होने से हैरान टिकटोक प्रशंसकों ने अपनी निराशा व्यक्त की.

एक अंतरराष्ट्रीय मोबाइल ऐप स्टोर मार्केटिंग इंटेलिजेंस संस्थान के अनुसार, टिकटोक को पिछले साल 2017 में 25.3 बार भारत में 32.3 मिलियन बार डाउनलोड किया गया था. इस ऐप का 27 प्रतिशत वैश्विक डाउनलोड था. 2019 के पहले तीन महीनों में 30 मिलियन से अधिक लोगों ने इसे डाउनलोड किया था.

मेट्रो और एसी बसों पर टिक टॉक वीडियो देखने वाले लोग कोलकाता में दिख जाते हैं. टेक विशेषज्ञों ने टिक टॉक की सफलता के लिए इसकी आसान प्रकृति और विशेष फीचर्स को जिम्मेदार ठहराया है. टिक टॉक ने आम लोगों को वर्चुअल सेलेब्रिटी भी बनाया है.

TikTok App Banned: भारत में टिक टॉक बैन, मद्रास हाई कोर्ट के आदेश के बाद गूगल ने प्ले स्टोर से हटाया ऐप

TikTok App Banned: देशभर में बैन होगा टिक टॉक, सरकार ने गूगल और एप्पल प्ले स्टोर को दिया ऐप हटाने का आदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App