नई दिल्ली. नफरत फैलाने वाला भाषण सोशल मीडिया पर हर जगह है. लेकिन इसके बारे में जानकारी देना या इसे रिपोर्ट करना आसान काम नहीं है. इस कारण विशेष रूप से सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने वालों से मुकाबला करने के उद्देश्य से एक एप लॉन्च किया गया है. मुंबई स्थित एक एनजीओ सिटीजन ऑफ जस्टिस एंड पीस, सीजेपी ने हेट हटाओ एप लॉन्च किया है.ये एक ऐसा एप है जो उपयोगकर्ताओं को नफरत फैलाने वाली खबरों की जानकारी देता है और लोग भी इसके जरिए ऐसी नफरत फैलाने वाली खबर की जानकारी एनजीओ को दे सकते हैं.

साथ ही इस जानकारी की शिकायत एनजीओ आगे संबंधित अधिकारियों के पास ले जाते हैं. सीजेपी का कहना है कि शिकायतों को केवल संबंधित सोशल मीडिया वेबसाइटों के पास ही नहीं बल्कि एनएचआरसी, प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया, नेशनल ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन और अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों के पास भी ले जाया जाएगा. एक दिन के कॉन्क्लेव में एप को लॉन्च किया गया.

एप के बारे में जानकारी देते हुए सीजेपी सचिव तीस्ता सेतलवाड ने कहा, ‘हमारा विजन और मिशन जमीन पर नफरत फैलाने वाली हिंसा को रोकने के लिए शांति स्वयंसेवकों का एक प्रतिबद्ध बैंड बनाना है. इस ऐप का मुख्य उद्देश्य लोगों को अभद्र भाषा, धमकियों और घृणा अपराधों के मामलों की रिपोर्ट करने के लिए आसान प्लेटफॉर्म देना है. इसमें स्क्रीनशॉट, वीडियो या फोटो जैसे सबूतों के साथ शिकायत करनी होगी.’ ये ऐप अभी केवल एंड्रॉइड उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध होगा और 30 जनवरी से गूगल प्ले स्टोर के जरिए इसको डाउनलोड भी किया जा रहा है.

ICICI Chanda Kochhar Videocon loan Case: आईसीआईसीआई बैंक का दावा- चंदा कोचर ने किया बैंक आचार संहिता का उल्लंघन, चंदा कोचर ने दिया जवाब

Omar Abdullah On Pm Narendra Modi: पीएम मोदी के 11 दिन में बलात्कारियों को फांसी के बयान पर भड़के उमर अब्दुल्ला, बोले- सच हुआ तो टोपी खा लूंगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App