नई दिल्ली: टेक्नोलॉजी बढ़ने के फायदे तो बहुत से है. बहुत से काम आसान हो गए लेकिन टेक्नोलॉजी बढ़ने से साइबर क्राइम में काफी वृद्धि हो गई है. जैसे कि आप सभी जानते है कि पहले डेटा लीक होने की खबरें कभी-कभी ही आती थीं. लेकिन पिछले कुछ समय में डेटा लीक के मामलों में काफी वृद्धि देखने को मिली रही है. खासकर ऑनलाइन पैमेंट प्लेटफॉर्म के बढ़ने से डेटा लीक में काफी इजाफा हुआ है. आएं दिन डेटा लीक हैकिंग की खबरें सामने आती रहती है.

 हाल ही में एक खबर सामने आई है कि 300 करोड़ से ज़्यादा ई-मेल आईडी और पासवर्ड लीक हो गए है. जी हां द सन ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि इंटरनेट यूज़र्स के अकाउंट्स में अब तक की सबसे बड़ी सेंध लग चुकी है. रिपोर्ट में कहा गया है कि 3.2 बिलियन यानी 320 करोड़ ई-मेल आईडी पासवर्ड के साथ लीक हो गए हैं. इस बार Gmail के अलावा Netflix और Linkedin प्रोफाइल भी लीक हुए हैं.

Bhavya Machine Tools: इंजीनियरिंग मशीनरी और टेकनोलॉजी क्षेत्र का अग्रणी रहा है भव्य मशीनिंग टूल्स, सीएम कर चुके हैं सम्मानित

रिपोर्ट के मुताबिक इस बार लगभग 11.7 करोड़ लोगों के Linkedin और नेटफ्लिक्स अकाउंट्स हैक किए गए है. रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि पहली बार डेटा लीक में लोगों के Netflix और लिंक्डइन के प्रोफाइल भी शामिल किए गए हैं. हैकिंग के द्वारा लगभग 1,500 करोड़ अकाउंट में सेंध लगी है, जबकि करीब 300 करोड़ से अधिक लोगों के ईमेल आईडी पासवर्ड हैक किए गए हैं. बता दें कि इस हैकिंग का शिकार ज्यादातर वो लोग हुए है जो नेटफ्लिक्स और ईमेल के लिए एक ही पासवार्ड का इस्तमाल कर रहे थे.

ऐसे जाने कहीं आप तो नहीं साइबर क्राइम के शिकार

अगर आपको भी अपने अकाउंट के लीक होने को आशंका हो तो आप यहां क्लिक करके चेक कर सकते हैं कि कहीं आपकी आईडी तो लीक नहीं हुई है. इस साइट पर आप अपना ईमेल आईडी डालकर लीक होने की जानकारी चेक कर सकते हैं. इसके अलावा आप haveibeenpwned.com वेबसाइट पर जाकर जांच कर सकते हैं कि हैकिंग के शिकार हुए हैं या नहीं.

Tesla Cybertruck Launch: टेस्ला ने लॉन्च किया इलेक्ट्रॉनिक पिक अप वैन साइबर ट्रक, कीमत और खूबियां जानकर दबा लेंगे दातों तले उंगलियां