नई दिल्लीः अगर आप यूज कर रहे मोबाइल नेटवर्क (Reliance Jio, Airtel, Idea, Vodafone, BSNL) से खुश नहीं हैं और अपना नंबर किसी और नेटवर्क कंपनी में पोर्ट कराना चाहते हैं तो आपके लिए खुश खबरी है. मोबाइल नंबर पोर्ट में अब एक हफ्ते का नहीं बल्कि महज दो दिन का समय लगेगा. इसके लिए दूरसंचार नियामक टेलीकॉम रेग्यूलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राइ) ने एक नया मसौदा तैयार किया है. हालांकि जम्मू-कश्मीर और पूर्वोत्तर के राज्यों में ये नियम लागू नहीं होगा. इन राज्यों में पहले की तरह ही 15 दिन की सीमा रहेगी.

आपको बता दें कि साल 2011 में भारत में मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी की सेवा शुरू हुई थी इस सेवा का लाभ उठाने वाले उपभोक्ता को पहले 19 रुपये चुकाने होते थे लेकिन बाद में इसे घटाकर 4 रुपये कर दिया गया था. जिस कारण पोर्टेबिलिटी सेवाएं देने वाली कंपनियों को घाटे का सामना करना पड़ा. जिसके चलते कंपनियां मार्च 2019 से सेवाएं देने से इंकार कर रही है.

बताते चलें कि वैसे को 2011 में मोबाइल पोर्टेबिलीटी की सेवा शुरू हो गई थी लेकिन देश केे किसी भी एक शहर से दूसरे शहर में नंबर पोर्ट कराने की सेवा 3 मई, 2015 से शुरू हुई. एक बार नंबर पोर्ट कराने के बाद जरूरी है कि उपभोक्ता उस कंपने के साथ कम से कम 90 दिन तक जुड़ा रहे. पहले नंबर पोर्ट कराने में जहां सात दिन का समय लगता था वहीं अब इसमें महज दो दिन का समय लगेगा. 

यह भी पढ़ें- 12 सितंबर को Apple कर सकता है iPhone Xs, XS Max, XC, स्मार्ट वॉच और भी कई प्रोडक्ट्स को लॉन्च

सामने आया Sony Xperia XZ3 का फर्स्ट लुक, फीचर्स जानकर उड़ जाएंगे होश

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App