नई दिल्ली: Google ने पिछले साल नवबंर में पहली बार न्यूरल मशीन ट्रांसलेशन लॉन्च किया था लेकिन उस समय यह सिर्फ 8 भाषाओं में था. अब गूगल ने ट्रांशलेशन को बेहतर और आसान बनाने के लिए कई भाषाओं को लॉन्च किया है. जिसमें हिंदी, रूसी और वियतनामी भाषा शामिल हैं.
 
कंपनी का कहना है कि न्यूरल मशीन ट्रांसलेशन में एक-एक शब्द का ट्रांसलेशन करने के बजाय पूरे वाक्य को समझकर उसका ट्रांसलेशन किया जाता है. इससे पहले वाले ट्रांशलेशन में सिर्फ शब्दों का ही ट्रांसलेशन होता था. जिस वजह से पूरे वाक्य का अर्थ ही गलता निकलता था.  लेकिन अब आपको पहले वाले टूल से काफी बेहतर ट्रांसलेशन मिलेगा.
 
 
गूगल ने आगे बताया कि न्यूरल ‘न्यूरल ट्रांसलेशन हमारी पिछली टेक्नॉलजी से बहुत अच्छा है. ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें ट्रांशलेशल किसी एक शब्द का करने के बजाए पूरे वाक्य का होगा. जिससे हमें पूरे वाक्य का सटीक मतलब पता चल सकेगा. इस नए टूल से हमे आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाला सही वाक्य मिलेगा.
 
 
गूगल ट्रांसलेट का यह नया अपडेट  iOS और ऐंड्रॉयड यूजर्स को जल्द ही मिल जाएगा. आप इस नए फीचर को गूगल सर्च, translate.google.com और  गूगल ऐप पर भी ऐक्सेस कर सकते हैं. गूगल ने आगे ये भी बताया कि अन्य भाषाओं के लिए भी न्यूरल मशीन ट्रांशलेशन पेश किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App