नई दिल्ली : 4G टेक्नोलॉजी के बाद अब कंपनियां 5G टेक्नोलॉजी की ओर रूख कर रही हैं, दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल और हैंडसेट निर्माता कंपनी नोकिया ने प्रौद्योगिकी भागीदारी को आगे बढ़ाना का फैसला लिया है.
 
 
इस फैसले के बाद अब दोनों कंपनियां 5G टेक्नोलॉजी को लेकर तथा कनेक्टेड उपकरणों के प्रबंधन को लेकर एक-साथ काम करेंगी. नोकिया ने एक बयान में कहा की अब वह इन नई भागीदारी के बाद से 5G नेटवर्क की कनेक्टिविटी पर अपना ध्यान केंद्रित करेगी.
 
भारती एयरटेल के निदेशक अभय सावरगांवकर ने बताया की इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) एप्लीकेशनों में बदलाव लाने की व्यापक गुंजाइश है.
 
 
वहीं इस मामले में हुआवे इंडिया के सीईओ जे चेन का कहना है कि दूरसंचार कंपनियां इसी साल से इस टेक्नोलॉजी पर काम करना शुरू कर देंगी और यह 5G टेक्नोलॉजी 1000 एमबीपीएस तक की डाउनलोड स्पीड दे सकती है.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App