शिमला. मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों के लिए हिमाचल प्रदेश के लगभग 10 जिलों में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। यह अलर्ट मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और मध्य पहाड़ी जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा के लिए जारी किया गया है। किन्नौर और लाहौल स्पीति जिलों को छोड़कर पूरे राज्य में मॉनसून सक्रिय रहेगा। राज्य में 24 अगस्त तक मौसम खराब रहने की संभावना है।

हिमाचल प्रदेश में बुधवार रात से बारिश हो रही है। राज्य के कई जिलों में गुरुवार सुबह तक बारिश होती रही। राज्य में मानसून करीब एक महीने तक जारी रहेगा। पिछले महीने, हिमाचल प्रदेश में विनाशकारी भूस्खलन और बाढ़ की एक श्रृंखला देखी गई। इस क्षेत्र में मानसूनी बारिश के फिर से शुरू होने से तबाही और नुकसान का खतरा बढ़ जाएगा। आईएमडी ने निवासियों को सतर्क रहने की सलाह दी है। मानसून के फिर से शुरू होने से अगले कुछ दिनों में पूरे राज्य में तापमान सामान्य हो जाएगा। आईएमडी ने कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून का पुनरुद्धार लगभग दो सप्ताह के अंतराल के बाद हो रहा है।

इस वर्ष, हिमाचल प्रदेश में मानसून आगमन की सामान्य तिथि से कम से कम 13 दिन पहले आया, 21 वर्षों में इसकी शुरुआत सबसे पहले हुई। हालांकि, राज्य में इस बार सामान्य से 17 फीसदी कम बारिश हुई है. कुल्लू को छोड़कर राज्य के सभी जिलों में सामान्य से कम बारिश हुई है. कुल्लू में अब तक 446.2 मिमी बारिश हो चुकी है, जो सामान्य बारिश से 28 प्रतिशत अधिक है। कुल मिलाकर राज्य में 15 अगस्त तक 431.8 मिमी बारिश हुई है। यह सामान्य से 17 प्रतिशत कम है।

Hariyana: खट्टर सरकार ने ‘गोरखधंधा’ शब्द पर लगाई रोक, राज्य में अब नहीं होगा इस्तेमाल

West Bengal: कलकत्ता हाईकोर्ट का बड़ा फैसला- चुनाव के बाद हुई हिंसा की जांच करेगी सीबीआई

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर