नई दिल्ली. कर्नाटक में तमाम अटकलों के बीच आखिर मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। येदियुरप्पा ने राज्यपाल थावरचंद गहलोत से मुलाकात कर उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया है। राज्यपाल ने स्वीकार भी कर लिया है।

येदियुरप्पा ने भावुक होते हुए कहा, ‘मैंने इस्तीफा देने का फैसला किया है। मैं दु:खी होकर नहीं, बल्कि खुशी से ऐसा कर रहा हूं। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने मुझे 75 साल की उम्र के बाद भी पद पर बने रहने दिया। मैं भविष्य में पार्टी निर्माण गतिविधियों में शामिल रहूंगा।’

वहीं संसद भवन में जेपी नड्डा और अमित शाह के बीच बैठक हुई और कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर चर्चा की गई। बीजेपी ऑब्ज़र्वर का नाम आज शाम तक तय करेगी। जो अगले दिन कर्नाटक जाएगी।

ये नाम आगे

अगले मुख्यमंत्री के तौर पर रविवार तक तीन नाम सामने आए थे। पहला नाम है बसवराज बोम्मई का, जो लिंगायत समुदाय से आते हैं और अभी कर्नाटक सरकार में गृह मंत्री होने के साथ-साथ संसदीय कार्य मंत्री और कानून मंत्री भी हैं। दूसरा नाम विश्वेश्वरा हेगड़े कगेरी का है, जो ब्राह्मण हैं और कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष हैं। तीसरा नाम है केंद्रीय कोयला खनन मंत्री और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्रलाद जोशी का। वहीं बीएल संतोष, लक्ष्मण सवदी और मुरुगेश निरानी का नाम भी सीएम रेस में सामने आ रहा है।

Delhi Unlock: दिल्ली में बस और मेट्रो खुलते ही लगी लंबी लाइन, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां

Tokyo Olympic 2020: मीराबाई चानू का सिल्वर मेडल बदल सकता है गोल्ड में, चीन की झीहुई होऊ को डोप टेस्ट के लिए रोका गया

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर