तिरूवनंतपुरमः केरल में सत्ताधारी मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) के विधायक पी.के. शशि पर डेमोक्रेटिक यूथ फेडरेशन ऑफ इंडिया (डीवाईएफआई) की एक युवा महिला नेत्री ने यौन शोषण की कोशिश का आरोप लगाया है. सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने मंगलवार को कहा कि उन्हें इसकी शिकायत मिली है. शिकायत को केरल इकाई के पास भेज दिया गया है. आरोपों की जांच की जा रही है.

मिली जानकारी के अनुसार, डीवाईएफआई नेत्री ने पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व से शिकायत की थी. पीड़िता ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि शोरनुर के विधायक पी.के. शशि ने पलक्कड़ के मनरकौद में पार्टी कार्यालय में उसका यौन शोषण करने की कोशिश की. महिला का आरोप है कि उसकी शिकायत पर पार्टी ने पहले ध्यान नहीं दिया था. इसके बाद 14 अगस्त को उसने सीपीएम पोलित ब्यूरो की सदस्य वृंदा कारत के पास शिकायत भेजी.

बीते सोमवार को पीड़िता ने सीताराम येचुरी को एक ईमेल भेजा. पीड़िता की शिकायत पर येचुरी ने मंगलवार को कहा, ‘हां मुझे कल शिकायत मिली है और उसे केरल इकाई के पास भेज दिया गया है. उन्होंने इसे लेकर जांच शुरू दी है. यह हमारी सामान्य प्रक्रिया है.’ दूसरी ओर पी.के. शशि ने दावा किया कि उन्हें इस शिकायत की कोई जानकारी नहीं है. मामले की जानकारी पर उन्होंने कहा कि यह उनकी राजनीतिक छवि खराब करने की सोची-समझी साजिश है.

बताते चलें कि अभी इस मामले में पुलिस में शिकायत नहीं दर्ज कराई गई है. केरल की महिला कांग्रेस अध्यक्ष लतिका सुभाष ने विधायक पी.के. शशि के इस्तीफे की मांग की. केरल कांग्रेस (युवा ) के अध्यक्ष डी. कुरियाकोस ने विधायक के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने और जल्द उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की है. बीजेपी नेता के सुरेंद्रन ने कहा कि सीपीएम की ओर से अभी तक इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है, जिसकी वह कड़े शब्दों में आलोचना करते हैं.

गुजरात: पिता की हवस का शिकार हुई 12 साल की बच्ची ने सूरत में दिया बेटे को जन्म

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App