रांची. रांची के राजेंद्र इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में रविवार को एक महिला को कथित तौर पर सिक्योरिटी गार्ड ने इंजेक्शन लगा दिया जिसके वजह से 70 वर्षीय महिला की मौत हो गई. रिम्स के मेडिसिन वार्ड में डायबिटिज के चलते महिला को एडमिट करवाया गया था, जहां वह पहले से बेहतर भी महसूस कर रही थीं. दरअसल रिम्स के वार्ड में कमला देवी नाम की 70 वर्षीय महिला को मधुमेह के चलते एडमिट करवाया गया था.

बताया जा रहा है कि ड्यूटी पर नर्स के मौजूद न होने की वजह से सिकोरियटी गार्ड ने गलत तरीके से इंजेकशन लगा दिया और महिला की मौत हो गई. मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन ने 4 सदस्य कमेटी का गठन किया और प्रशासन ने सिक्योरिटी गार्ड नवीन कुमार झा और ड्यूटी पर मौजूद नर्स को कारण बताओ नोटिस थमाया है.

कमेटी ने गार्ड को नौकरी से हटा दिया है वहीं नर्स से इस मामले में पूछताछ की जा रही है. जबकि गार्ड ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किए हैं. गार्ड का कहना है कि उसने किसी को इंजेक्शन नहीं दिया है. मृतका के परिवार वाले मुझसे सफाई करवाना चाहते थे और मैंने ऐसा करने से मना कर दिया जिस रंजिश के कारण परिवार वालों ने मेरे खिलाफ झूठ बोल रहे हैं. वहीं मीडिया रिपोर्ट्स में कई बार सामने आया है कि ऐसे जाने माने अस्पतालों में गार्ड के जरिए ड्रेसिंग करने जैसे छोटे मोटे काम करवाए जाते हैं.

मंदसौर महापाप पर महाफास्ट न्याय: 7 साल की बच्ची के रेपिस्टों को 56 दिन में फांसी की सजा

छेड़छाड़ का केस वापस न लेने पर सरे बाजार दलित छात्रा की सिर कुचलकर हत्या

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App