नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मस्लिमीन (एआइएमआइएम) के प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी अपनी बेबाकी के लिए काफी मशहूर हैं. इस बीच अब वो बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर काफी सक्रिय हो गए हैं. जिसके चलते ओवैसी रविवार की सुबह अचानक बंगाल का दौरा करने पहुंच गए. जहां उन्होंने टीमएसी प्रमुख ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए बंगाल में भाजपा की सीटों की बढ़त के लिए तृणमूल को जिम्मेदार ठहरा दिया है. वहीं इस मुद्दे पर तृणमूल कांग्रेस अपनी अलग प्रतिक्रिया दे रही है.

बता दें कि, राविवार को असदुद्दीन ओवैसी ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, “तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी को उनके संगठन पर आरोप लगाने के बजाए खुद का आत्मनिरीक्षण करना चाहिए और देखना चाहिए कि किस तरह से बीजेपी ने राज्य में 18 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल की”.

ओवैसी ने आगे कहा, ”हम राजनीतिक दल हैं, हम अपनी उपस्थिति साबित करेंगे और चुनाव लड़ेंगे ” इसके अलावा ओवैसी ने कहा, भारत की सियासत की मैं लैला हूं और मेरे मजनू बहुत हैं, उससे कोई फर्क नहीं पड़ता” संवाददाताओं से आगे बात करते हुए उन्होंने कहा, उनकी पार्टी ने अभी यह तय नहीं किया है कि यह अकेले चुनाव लड़ेगी या किसी अन्य पार्टी के साथ गठबंधन करेगी.

बता दें कि असदुद्दीन ओवैसी रविवार को कोलकाता पहुंचने के बाद सीधे फुरफुरा शरीफ पहुंचे और यहां के पीरजादा व प्रमुख मुस्लिम धार्मिक नेता अब्बास सिद्दीकी से मिले. जिनके साथ उन्होंने बैठक की और राज्य के राजनीतिक हालात तथा आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर बातचीत की थी. ऐसे में अब देखना यह होगा कि असदुद्दीन ओवैसी बंगाल चुनाव में अपने प्रवेश के साथ यहां के चुनावी समीकरण कैसे बदलेंगे.

Muradnagar shamshan Ghat: अंतिम संस्कार में शामिल हुए लोगों पर श्मशान घाट का गिरा लेंटर, 25 की मौत रेस्क्यू कार्य जारी

7th Pay Commission: UPSC ने कई विभागों में निकाली बंपर वैकेंसी, 7th पे के तहत मिलेगी सैलरी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर