रांचीः झारखंड के कोडरमा जिले के डोमचांच थाना क्षेत्र के नावाडीह गांव में मंगलवार को पशु हत्या का मामला सामने आने के बाद इलाके में तनाव फैल गया. इस दौरान करीब 30 घरों में तोड़फोड़ करने के साथ ही एक धार्मिक स्थल में घुसकर भी उसे क्षति पहुंचाई गई. साथ ही करीब 17 मोटरसाइकिल, एक बोलेरो, एक स्विफ्ट कार और दो टेंपो को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया गया. उपद्रवियों ने घरों से सामान निकालकर तोड़फोड़ की. मामला इतना बिगड़ गया कि इलाके में धारा 144 लगानी पड़ी. इस मामले में पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया है.

जानकारी के अनुसार नावाडीह गांव के जुम्मन मियां के घर में बेटे की शादी की रिसेप्शन पार्टी थी. जहां सुबह आयोजन स्थल मस्जिद के निकट एक खेत में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा मिला. जैसे की इसकी सूचना लोगों को मिली लोग वहां इकट्ठे हो गए. इसी बीच घटनास्थल पर थाना प्रभारी विनोद पहुंचे. वह जांट कर ही रहे थे कि इसी बीच रिशेप्सन में पशु का मांस परोसे जाने के आरोप में एक गुट के सैकड़ों लोगों ने घरों, वाहनों में तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया. लोगों ने एक धार्मिक स्थल पर चढ़करर वहां भी आंशिक तोड़फोड़ की, धार्मिक पुस्तकें जला दीं.

स्थिति इतनी बिगड़ गई कि मौके पर पहुंचे पुलिस बल को लाठीचार्ज करना पड़ा. जानकारी के अनुसार लाठीचार्ज में दो-तीन लोग घायल भी हुए हैं जिसमें एक आठ साल का बच्चा भी है. पुलिस ने तनावपूर्ण स्थिति को किसी तरह संभाला और बवाल काट रहे लोगों को खदेड़ा गया. मामले पर एसपी शिवानी तिवारी का कहना है कि इस मामले की जांच की जा रही है. हमने मौके से कुछ जानवरों के खुरों सहित नमूने उठाए हैं. साथ ही वीडियो और वीडियो और फोटोज की मदद से जांच की जा रही है.

यह भी पढ़ें- अलीमुद्दीन हत्याकांड: बीजेपी नेता नित्यानंद महतो समेत 11 लोगों को उम्रकैद, बीफ के शक में की थी हत्या

त्रिपुरा: बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुनील देवधर बोले, राज्य में बीफ बैन संभव नहीं

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App