Wednesday, August 17, 2022

यूपी : सपा MLA के हाथ मारने भर से गिरी राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज की दीवार, वीडियो वायरल

लखनऊ : भाजपा शाषित उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से एक सपा एमएलए का वीडियो खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो में सपा मंत्री निर्माणाधीन राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज का निरीक्षण करने पहुंचते हैं. इस बीच समाजवादी पार्टी (सपा) विधायक आरके वर्मा इस निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठाते हैं. गुणवत्ता को जांचने के लिए विधायक आरके वर्मा ने अपने हाथ से ही दीवार को धक्का दिया तो पूरी दीवार ही भरभराकर गिर पड़ी. इस घटना का वीडियो आरके वर्मा ने अपने ट्विटर हैंडल पर साझा किया है. जहां इसपर आरके वर्मा इस इमारत को कब्रगाह बता रहे हैं.

भरभरा कर गिरी दीवार

दरअसल, बीते दिनों सपा विधायक डॉ. आरके वर्मा प्रतापगढ़ के रानीगंज विधानसभा के शिवसत में जंगलों के बीच बन रहे राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज का निरीक्षण करने पहुंचे थे. निरिक्षण करते समय जब सपा मंत्री कॉलेज की नींव पर चलने लगे तो ईंटे उखड़ने लगीं. इसके बाद उन्होंने एक हाथ से खड़ी दीवार को धक्का दिया तो पूरी की पूरी दीवार ही भरभरा कर गिर गई. इस तरह के निर्माण को देखते हुए उन्होंने कहा कि यह इंजीनियरिंग कॉलेज नहीं, प्रतापगढ़ के लिए कब्रगाह बन रहा है, जिले में योजनागत लूट मची हुई है, किस हद तक लूट चल रही है. इस वीडियो में भी साफ़ नज़र आ रहा है कि इंजीनियरिंग कॉलेज के निर्माण में लगी पीली ईंटों के साथ ही सीमेंट व बालू भी घटिया किस्म का है.

कॉलेज नहीं मौत का इंतजाम- वर्मा

कॉलेज के निर्माण की इस हालात को देखने के बाद सपा विधायक आरके वर्मा आक्रोशित नज़र आये. उन्होंने इस बीच जिलाधिकारी को फोन लगाकर पूरी बात बताई. इस बीच जब ग्रामीण अभियंत्रण सेवा के इंजीनियर आनन-फानन में मौके पर पहुंचे तो विधायक आरके वर्मा के सामने सैम्पल भर कर जांच के लिए लैब भेज दिया गया. बहरहाल इस पूरी घटना का वीडियो खुद आरके वर्मा ने साझा किया है. जो अब काफी वायरल हो रहा है. वीडियो को साझा करते हुए उन्होंने इसके कैप्शन में लिखा, “ऐसे घटिया निर्माण कार्य से सरकार युवाओं का भविष्य नहीं तैयार कर रही बल्कि उनके मौत का इंतजाम कर रही है.” मौजूदा सरकार पर तंज करते हुए उन्होंने लिखा, “रानीगंज विधानसभा में बन रहे इंजीनियरिंग कॉलेज में भ्रष्ट सरकारी तंत्र का दर्शन. अनियमितता की शिकायत पर सपा विधायक आरके वर्मा मौके पर पहुंचे थे.”

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news