उत्तराखंड. दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने दस्तक दे दी है, इससे वैश्विक स्तर पर डर का माहौल बना हुआ है. भारत में भी कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का कहर बढ़ता ही जा रहा है, ऐसे में सरकार ने भी इसे लेकर सख्त रुख अपना लिया है. इसी क्रम में उत्तराखंड ( Uttarakhand ) सरकार ने भी सख्त रुख अपनाया है. उत्तराखंड में अब अंतर्राज्यीय सीमा पर आरटी पीसीआर टेस्ट करवाना अनिवार्य हो गया है.

उत्तराखंड में प्रशासन सख्त

देशभर में कोरोना के मामलों में एकाएक उछाल देखने को मिल रहा है. ऐसे में, लोगों को तीसरी लहर की चिंता सता रही है. ऐसे में केंद्र सरकार और राज्य सरकारें इसे लेकर सख्ती बरतती नज़र आ रही है. इसी कर्म में, उत्तराखंड में अब दूसरे राज्यों से आने वालों को आरटी पीसीआर टेस्ट करवाना होगा. बिना आरटी पीसीआर टेस्ट के लोगों को सीमा पार करने नहीं दिया जाएगा.

बीते दिन वैश्विक स्तर पर ओमिक्रॉन के कहर को देखते हुए आपातकालीन बैठक बुलाई गई थी, जिसमें कई अहम फैसले लिए गए. इसके चलते ही सरकार ने नई गाइडलाइन्स ( Omicron new Guidelines ) जारी की है.

पैसेंजर को अपनी ट्रैवल हिस्ट्री और निगेटिव RT-PCR रिपोर्ट एयर सुविधा पोर्टल पर अपलोड करना होगी अनिवार्य

सरकार द्वारा जारी नई गाइडलाइन्स के अनुसार अब इंटरनेशनल पैसेंजर को सफर शुरू करने से पहले अपनी ट्रैवल हिस्ट्री और निगेटिव RT-PCR रिपोर्ट केंद्र सरकार के एयर सुविधा पोर्टल पर अपलोड करनी होगी. बता दें कि इससे पहले दिन में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इमरजेंसी मीटिंग के दौरान मौजूदा गाइडलाइंस को नए सिरे से पेश करने की बात कही थी. वहीं, इंटरनेशनल डेस्टिनेशन से भारत आने वाले यात्रियों से उनकी पिछले 14 दिन की ट्रैवल हिस्ट्री का रिकॉर्ड मांगा जाएगा, यहाँ चेक किया जाएगा की बीते दिनों उन्होंने किन-किन देशों की यात्रा की है.

यह भी पढ़ें :

Corona Cases in Mumbai: ओमिक्रॉन की दहशत के बीच मुंबई के वृद्धाश्रम में 67 लोग पाए गए कोरोना पॉज़िटिव

International Flights From 15 Dec इंटरनेशनल फ्लाइट्स 15 दिसंबर से शुरू करने के फैसले का होगा रिव्यू

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर