बेतालघाट: मौसम के अचानक करवट लेने के बाद उत्तराखंड राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई है. बेतालघाट क्षेत्र में बादल फटने की वजह से मदाकिनी नदी उफान पर आ गई. जिसकी वजह से नदी पर बने पुल टूट कर पानी में बह गया है. वहीं लोगों के घरों और दुकानों में मलबा घुसने की भी खबर है. हालांकि अभी तक घटना में किसी जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है. शुक्रवार दोपहर में 12 बजे ही घने बादल और धुल भरी आंधी की वजह से अंधार छा गया.

वहीं पिथौरागढ़ जिले में भी भारी बारिश ने भारत-नेपाल सीमा पर काली और गोरी नदी घाटी नदी क्षेत्र में जमकर कहर बरपाया. राज्य में बारिश की वजह से कई जगह भूस्खलन की भी खबर है. कभी धूप तो कभी बारिश ने लोगों के जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है. मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में भी भारी बारिश की संभावना बताई है. मौसम विभाग की ओर से जारी चेतावनी के बाद शासन ने सभी जिलाधिकारियों को सतर्क कर दिया है.

एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के साथ ही पुलिस को भी अलर्ट मोड पर डाल दिया गया है. राज्य में भारी बारिश की वजह से कुछ गांवों का संपर्क भी एक दूसरे से टूट गया है. इसके साथ ही रामनगर से जोड़ने वाला मार्ग पर मलबा आने से यातायात ठप हो गया है. पिथौरागढ़ के जौलजीवी में करीब डेढ़ घंटे तक भारी बारिश की वजह से गोरी नदी में उफान आ गया. बारिश के बाद उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली के जिलाधिकारियों ने कहा कि मौसम खराब होने की वजह से चार धाम यात्रा मार्गों पर चिंता जैसी स्थिति नहीं है.

दिल्ली-NCR में गरज व तेज हवाओं के साथ अगले दो घंटे में बारिश के अनुमान

बिहार, यूपी और झारखंड में आंधी-तूफान से 44 की मौत, 34 घायल