Thursday, December 8, 2022

एमसीडी चुनाव 2022 नतीजे

एमसीडी चुनाव  (250 / 250)  
BJP - 104
CONG - 09
AAP - 134
OTH - 03

लेटेस्ट न्यूज़

Time मैगज़ीन के पर्सन ऑफ द ईयर बने यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की

0
नई दिल्ली : यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की को विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम ने पर्सन ऑफ द ईयर 2022 बनाया है. बता दें, हर साल...

उत्तराखंड : कोर्ट ने Facebook पर लगाया 50 हजार का जुर्माना, जानिए पूरा मामला

0
नैनीताल : बुधवार (7 दिसंबर) को नैनीताल हाईकोर्ट ने फेसबुक पर 50 हजार का जुर्माना लगाया है. ये जुर्माना सही समय पर जवाब दाखिल...

हैदराबाद : देह व्यापर में धकेली जा रही थीं 14 हज़ार लड़कियां, ऐसे पकड़ा...

0
Hyderabad: हैदराबाद की साइबराबाद पुलिस को देह-व्यापर के गोरकधंधे में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. पुलिस ने वेश्यावृत्ति का राजफास करते हुए 17...

उत्तर प्रदेश: गोरखपुर विश्वविद्यालय के कर्मचारी ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट में हुआ खुलासा

लखनऊ: एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया कि जांच में प्रथम दृष्टया मामला खुदकुशी जैसा ही लग रहा है। मृत कर्मचारी की पॉकेट से सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें खुदकुशी करने की वजह लिखी गई है, लेकिन हर उस पहलू की जांच की जाएगी।

बीएड विभाग के क्लास रूम में आत्महत्या

गोरखपुर यूनिवर्सिटी के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विभूति प्रसाद (56) ने रविवार को बीएड विभाग के क्लास रूम में आत्महत्या कर ली। तार के सहारे उसने गले में लगाकर पंखे से फंदा लगाया था। पुलिस को उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें लिखा है कि मैं कैंसर से पीड़ित हूं, अब मैं जीना नहीं चाहता हूं। कर्मचारी की मौत की वजह जानने के लिए पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कर्मचारी विभूति की मौत की जांच पड़ताल फिलहाल पुलिस कर रही है।

विभूति प्रसाद महराजगंज जिले के श्यामदेउरवा थाना क्षेत्र स्थित पिपरपाती गांव के रहने वाले थे। नौकरी की वजह से वह रुस्तमपुर में रहते थे। रविवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर (24-26) सितंबर तक सभी शिक्षकों एवं कर्मचारियों की छुट्टी निरस्त कर दी गई है।

इसके अवज में उन्हें प्रतिकर अवकाश दिए जाने की घोषणा की गई है। इस कार्यक्रम में सभी को यूनिवर्सिटी तीनों दिन पहुंचना अनिवार्य था। इसी वजह से रविवार को भी सभी शिक्षक एवं कर्मचारी जहां-जहां कार्यक्रम चल रहे थे, उपस्थित हुए थे। बीएड विभाग के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विभूति प्रसाद भी इस कार्यक्रम में पहुंचा था।

महिला कर्मचारी ने देखा शव

उसने रविवार के दिन सुबह में विभाग खोलकर बायोमीट्रिक उपस्थिति लगाई। अपराह्न लगभग 3.40 बजे महिला कर्मचारी ने विभूति का शव तार के फंदे से लटकता हुआ देखा और कार्यालय अधीक्षक संजय कुमार शुक्ला को सूचना दी। संजय शुक्ला ने तुरंत पुलिस को जानकारी दी। कैंट पुलिस के अलावा कुलपति प्रो. राजेश सिंह, चीफ प्राक्टर सतीश चन्द्र पांडेय आदि भी मौके पर पहुंच गए थे।

2 बच्चों के पिता थे विभूति प्रसाद

विभूति प्रसाद की पत्नी का देहांत हो चुका है, उनके दो बच्चे हैं और शादी हो चुकी है। कुलपति ने परिजनों को यथा संभव मदद का आश्वासन दिया। मृत कर्मचारी की जेब से मिले सुसाइड नोट के अनुसार प्रथम दृष्टया मामला खुदकुशी का ही लग रहा है। जिसमें खुदकुशी करने की वजह लिखी गई है, लेकिन हर उस पहलू की जांच की जाएगी।

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news