UP Assembly Election 2022:

उत्तर प्रदेश. देश में यूपी समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव Assembly election होने हैं। लेकिन ओमिक्रॉन के चलते चुनावों पर कशमकश की स्थिति बनी हुई है। इसी के मद्देनजर आज चुनाव आयोग ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। यूपी चुनाव की तैयारियों की समीक्षा करने के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने बताया कि सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि समय पर ही चुनाव कराने के इच्छुक हैं। हालांकि इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पूरा पालन कराया जाना चाहिए।  

चुनाव आयोग ने क्या कहा

तीन दिनों तक यूपी चुनावों की समीक्षा करने के बाद चुनाव आयोग ने घोषणा की है कि 5 जनवरी को फाइनल वोटर लिस्ट आएगी। इस बार उत्तर प्रदेश में 52 फीसदी नए वोटर और महिला मतदाताओं की संख्या बढ़ी है। जैसा कि सभी राजनीतिक दल समय पर चुनाव के पक्ष में हैं तो यूपी में सही समय पर चुनाव होंगे। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए चुनाव सम्पन्न होंगे। चुनाव आयुक्त ने बताया कि रैलियों में नफरती भाषण और उमड़ रही भारी भीड़ पर भी कुछ दलों ने चिंता जताई है। साथ ही पोलिंग बूथ पर पर्याप्त संख्या में महिला बूथकर्मी की भी मांग की गई है।

कोरोना के लिए विशेष नियम

राज्य में कोरोना की स्थिति को देखते हुए चुनाव आयोग ने कुछ विशेष नियम बनाए हैं। आयोग के मुताबिक 80 वर्ष से अधिक आयु के लोग, विकलांग व्यक्ति, और कोरोना प्रभावित लोगों को मतदान पर आकर वोट करने की जरुरत नहीं है। बल्कि चुनाव आयोग द्वारा चयनित कर्मचारी उनके दरवाजे पर वोट लेने पहुंचेगा। बता दें कि अगले साल फरवरी-मार्च माह के दौरान यूपी में विधानसभा चुनाव होने हैं।

यह भी पढ़ें :

Omicron Crisis: ओमीक्रॉन का खतरा देखते हुए RRR फिल्म की रिलीज़ डेट आगे बढ़ी, इस दिन आने वाली है सिनेमाघरों में !

Anurag Thakur Said in Varanasi : वाराणसी में बोले अनुराग ठाकुर, यूपी में पहले से ज्यादा सीटें जीतेगी बीजेपी

 

SHARE