लखनऊ. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने सावन माह में 25 जुलाई से कांवड़ यात्रा निकालने की मंजूरी दे दी है। साथ ही उन्होंने अफसरों को निर्देश दिया है कि वह पड़ोसी राज्यों, बिहार और उत्तराखंड सरकार से बातचीत करके जल्द से जल्द गाइडलाइन जारी करें।

उन्होंने अफसरों को निर्देश दिया कि 25 जुलाई से शिवभक्तों की परंपरागत कांवड़ यात्रा प्रारंभ हो रही है। श्रद्धालुओं की बड़ी संख्या उत्तराखंड और बिहार आदि राज्यों में जलाभिषेक के लिए जाती है। कोविड काल को दृष्टिगत रखते हुए संबंधित राज्यों से संवाद कर यात्रा के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए जाएं।

मालूम हो कि उत्तराखंड में इस साल भी कांवड़ यात्रा प्रतिबंधित करने का ऐलान किया गया है। पिछले दिनों उत्तराखंड के डीजीपी ने आठ राज्यों के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि यात्रा पर प्रतिबंध है, ऐसे में यहां जो भी आएगा, हो सकता है उसे 14 दिन के लिए क्वारंटीन कर दिया जाए. स्थानीय लोगों के लिए भी यात्रा प्रतिबंधित रहेगी।

भले ही प्रदेश में कोरोना के दैनिक मामले काफी कम हो गए हों लेकिन कोरोना अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। राज्य में अभी भी कई तरह की पाबंदी लागू है। वहीं वैज्ञानिक तीसरी लहर की आशंका भी जाहिर कर चुके हैं। ऐसे में ये फैसला किस हद तक सही होगा ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा।

UP Unlock: यूपी में आज से खुलेंगे सिनेमाहॉल, जिम और स्टेडियम, जानें क्या होंगे नियम

Most Hindus Faith in Shiva: सर्वे में दावा, 45 फीसदी हिंदू भगवान शंकर में रखते हैं आस्था, भगवान राम से ज्यादा बजरंगबली के भक्तों की संख्या