Monday, December 5, 2022

UP : स्टेट बैंक के तत्कालीन शाखा प्रबंधक समेत अन्य कर्मचारियों पर एफआईआर

लखनऊ: किसान क्रेडिट कार्ड से 3 लाख रुपये दूसरे के खाते में ट्रांसफर करने के मामले में नगर कोतवाली पुलिस ने एसबीआई के तत्कालीन शाखा प्रबंधक समेत अन्य कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज की गई है। फिलहाल कोतवाली पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

3 लाख रुपये का बनवाया था किसान क्रेडिट कार्ड

यह मामला अमरोहा नगर कोतवाली क्षेत्र के जट बाजार स्थित स्टेट बैंक की प्रमुख शाखा से जुडा है। ओमप्रकाश सिंह का परिवार देहात थानाक्षेत्र के कैलसा गांव में रहता है। उनका कहना है कि उन्होंने अमरोहा नगर बैंक में वर्ष 2016 को 3 लाख रुपये का किसान क्रेडिट कार्ड बनवाया था। 26 अगस्त 2016 को हमने 2.75 लाख रुपये निकाले थे।

तीन लाख से अधिक की आरसी लेकर पहुंचा

जबकि बांकी राशि खाते में रहने दी, इसके बाद 11 और 12 जुलाई 2017 को रामवीर सिंह ने क्रेडिट कार्ड की ली हुई धनराशि जमा कर दी थी। जिसके बाद वह क्रेडिट कार्ड को लेकर चिंता मुक्त थे। लेकिन 11 जुलाई 2022 तहसील का अमीन किसान क्रेडिट कार्ड से संबंधित तीन लाख से अधिक की आरसी लेकर पहुंचा। ये देखकर किसान काफी परेशान हो गए।

उन्होंने 21 जुलाई को बैंक पहुंचकर अपने किसान क्रेडिट कार्ड खाते से संबंधित विवरण निकलवाया। जिसमें पता चला कि बैंक के शाखा प्रबंधक और तैनात फील्ड ऑफिसर द्वारा धोखाधड़ी करके 12 जुलाई 2017 को उनके क्रेडिट कार्ड से 3 लाख रुपये गजेंद्र नाम के व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर किए हैं। चिंतित रामवीर सिंह मामले की शिकायत वर्तमान शाखा प्रबंधक से की।

कहना है कि बैंक कर्मचारियों ने उनके साथ गलत व्यवहार कर भगा दिया और उनको जेल भिजवाने की धमकी भी दी। चिंतित रामवीर ने मामले की शिकायत एसपी आदित्य लांग्हे से की। उनके आदेश पर नगर कोतवाली पुलिस ने बैंक के तत्कालीन शाखा प्रबंधक, फील्ड ऑफिसर सत्येंद्र सिंह और अन्य कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर दर्ज की है। सीओ सिटी विजय कुमार राणा ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। फिर इसके बाद गिरफ्तारी की जाएगी।

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news