लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के लिए एक बड़ा झटका, बुधवार को पार्टी के चार एमएलसी डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, केशव प्रसाद मौर्य और पार्टी के राज्य प्रमुख स्वतंत्र की उपस्थिति में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। देव सिंह। चार नेता रविशंकर सिंह पप्पू, सीपी चंद, अक्षय प्रताप सिंह और राम निरंजन हैं।

ये सभी विधान परिषद के सदस्य हैं, जिन्हें स्थानीय निकायों के माध्यम से चुना जाता है। इनका कार्यकाल अगले साल मार्च में खत्म हो रहा है। इन सभी नेताओं का अपने-अपने क्षेत्रों में काफी प्रभाव है। उनका मानना ​​है कि भाजपा के समर्थन से वे अगले साल आराम से चुनाव जीतेंगे।

रविशंकर सिंह पप्पू पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चंद्रशेखर के भतीजे हैं। ज्ञात हो कि दिवंगत चंद्रशेखर के पुत्र नीरज शेखर पहले ही भाजपा में शामिल हो चुके हैं। सीपी चंद पूर्व मंत्री मार्कंडेय चंद के बेटे हैं। अक्षय प्रताप सिंह पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया) के चचेरे भाई हैं।

इसके अलावा, जौनपुर से बसपा एमएलसी बृजेश सिंह ‘प्रिंकू’ भी भाजपा में शामिल होने के लिए वफादारी बदल रहे हैं। उन्हें बसपा के पूर्व सांसद धनंजय सिंह का करीबी माना जाता है।

दिलचस्प बात यह है कि भाजपा में शामिल होने वाले ज्यादातर नेता ठाकुर समुदाय से हैं। उनके भाजपा में शामिल होने से सत्तारूढ़ पार्टी को एक बड़ा बढ़ावा मिलने की उम्मीद है, जिसे इस साल की शुरुआत में हुए पंचायत चुनावों में पराजय का सामना करना पड़ा था।

Joe Biden-Xi Jinping meet: ताइवान को लेकर चीन ने अमेरिका को दी ‘आग से न खेलने’ की चेतावनी

फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने हैदरपोरा एनकाउंटर पर उठाए सवाल, केंद्र को घेरा

Kapal Mochan Mela 2021 कपाल मोचन मेले में 10 लाख श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर