लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शिक्षक दिवस पर तोहफा देते हुए सूबे के 18 यूनिवर्सिटी के शिक्षकों और कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का वेतन लाभ देने की घोषणा की है. बीते दिन राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रीमंडल की बैठक में यह फैसला लिया गया. इन सभी शिक्षक और कर्मचारियों को 1 जनवरी साल 2016 के आधार मानते हुए सातवें आयोग के मुताबिक, वेतन का लाभ दिया जाएगा.

मिली जानकारी के अनुसार, शिक्षक दिवस से एक दिन पूर्व हुई इस बैठक के बाद राज्य सरकार के प्रवक्ता ने इस बात की घोषणा की. प्रवक्ता ने बताया कि 1 जनवरी साल 2016 के आधार पर इन इन विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के शिक्षकों व समकक्ष कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग के अनुसार वेतन का लाभ दिया जाएगा. प्रवक्ता के मुताबिक, यह योजना वित्त अधिकारी, परीक्षा नियंत्रक, कुलसचिव, कुलपति और प्रति कुलपति के पदों पर लागू नहीं होगी.

यूपी सरकार प्रवक्ता ने बताया कि वेतन पुनरीक्षण योजना लागू होने से सरकार पर आने वाले अतिरिक्त व्यय भार का 50 प्रतिशत वहन सरकार अपने स्त्रोतों से करेगीय प्रवक्ता ने बताया कि सरकार के इस फैसले से शिक्षकों की सैलेरी में 15 से लेकर 35 हजार रुपए के बीच हर महीने बढ़ोतरी होगी.

योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में किया अलकनंदा क्रूज का उद्धघाटन, ये होंगी इसकी खासियतें

उत्तर प्रदेश के CM योगी आदित्यनाथ ने बताया बंदर भगाने का अनोखा नुस्खा, बजरंग बली का आरती करो, पढ़ो हनुमान चालीसा

यूपीः इलाहाबाद में योगी थाली की शुरुआत, 10 रुपये में मिलेगा भरपेट भोजन

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App