नई दिल्ली/ झारखंड के चतरा जिले में एक ऐसी अनोखी शादी हुई है जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही है. इस शादी की चर्चा इसलिए हो रही है क्योंकि शादी के लिए एक युवक लड़की देखने गया था और लड़के को लड़की इतनी पसंद आ गई कि उसने चट मंगनी पट ब्याह करने की जिद कर दी. जिसके बाद युवक की बिना लग्न और मूहर्त के शादी रचाई गई. ना बैंड बाजा, ना बारातियों का तामझाम दूल्हा दुल्हन मिले और दोनों ने कर ली शादी. बस सात फेरे लिए और फटाफट अंदाज में दोनों एक दूसरे के साथ बंधन में बंध गए.

लड़के ने देवों के देव महादेव के महा पर्व यानी महाशिवरात्रि पर प्रभु शिव जी को साक्षी मानकर दुल्हन की मांग में सिंदूर भर दिया और फिर दूल्हा दुल्हन को लेकर खुशी खुशी विदा हो गया. लड़का और लड़की के बीच विवाह पर बात आगे बढ़ी और लड़का गुरुवार को अपने लिए सुयोग्‍य कन्‍या देखने लड़की के घर पहुंचा. वहां लड़की देखते ही उसके मन को भा गई. दूल्हे ने आनन फानन में ही शादी करने की फरमाइश कर दी. लड़के ने जिद्द पकड़ ली और फिर दोनों की तुरंत शादी मंदिर में करा दी गई.

हालांकि लड़के को घर परिवार वालों ने बहुत समझाया, लग्न मुहूर्त सब का हवाला दिया लेकिन लड़का माना नहीं. लड़के ने अपने इरादे बना लिए और तुरंत जाके मंदिर में सात फेरे ले लिए और विवाह संपन्न हुआ. लड़का राजेंद्र कुमार हजारीबाग जिले के चौपारण प्रखंड के भगहर-भंडार गांव का रहने वाला है. जबकि लउ़की गिद्धौर प्रखंड मुख्‍यालय की निवासी है.

बताया गया कि दूल्हा राजेंद्र ने बिना दहेज के दुल्हन से शादी रचाई और शादी में कोई गिफ्ट लेने से भी मना कर दिया. सभी के समझाने-बुझाने का जब लड़के पर कोई असर नहीं हुआ, साथ ही लड़का बिना विवाह के घर नहीं लौटने की जिद पकड़कर बैठ गया. इसके बाद दोनों की शिव मंदिर में हिंदू रीति रिवाज के साथ दूल्हा दुल्हन की शादी संपन्न करवाई गई.

Coronavirus New Case : कोरोना ने फिर पसारे पैर, 24 घंटों में 24,882 नए केस

Lighting in Gurugram Video: बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े कर्मचारियों पर गिरी बिजली, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर