मुंबईः पिछले कई दिनों से बढ़ रहे पेट्रोल-डीजल के दामों के चलते केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार चौतरफा घिरती नजर आ रही है. लगातार विपक्ष के हमले के बाद अब एनडीए की सहयोगी शिवसेना ने बीजेपी पर जोरदार हमला बोला है. भाजपा पर निशाना साधने का कोई भी मौका ना छोड़ने वाली उद्धव ठाकरे की पार्टी शिवसेना ने तेल और की बढ़ती कीमतों पर महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पोस्टर लगवाए और पूछा कि क्या यही है अच्छे दिन. बता दें कि शिवसेना ने गैस, पेट्रोल और डीजल के दाम वाले पोस्टर लगवाकर सरकार पर हमला बोला है. 

गौरतलब है यह पहली बार नहीं है जब शिवसेना बीजेपी पर हमलावर रही हो इससे पहले भी कई मौकों पर शिवसेना ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. इस बार पोस्टर लगाकर शिवसेना ने सरकार पर हमला बोला है पोस्ट में 2015 से 2018 के बीच पेट्रोल-डीजल और गैस के दामों में हुई बढ़ोत्तरी को दिखाया गया है और पूछा गया है कि क्या यही है अच्छे दिन जिसकी सत्ता में आने से पहले पीएम मोदी बात करते थे.

आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से पेट्रोल-डीजल की कीमत लगातार बढ़ रही है. विशेषज्ञों की मानें को पेट्रोल-डीजल के दामों में लगी महंगाई की आग से फिलहाल आम आदमी को राहत मिलती नहीं दिखाई दे रही है. तेल की कीमतों में लगातार हो रहे इजाफे का कारण डॉलर के ंमुकाबूले रुपये का गिरना है. रुपये में लगातार गिरावट आ रही है जिसके चलते तेल कंपनियां दामों में भी लगातार बदलाव कर रही है. कारण है कि तेल कंपनियों को डॉलर में भुगतान करना पड़ता है जिसकी वजह से उन्हें अपना मार्जिन पूरा करने के लिए तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी करनी पड़ रही है. 

यह  भी पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी के निधन की घोषणा पर शिवसेना ने उठाए सवाल, पूछा- PM मोदी के भाषण की वजह से तो नहीं हुई देरी?

डॉलर के मुकाबले 72.10 के स्तर पर रुपया, मुंबई में 90 के करीब पहुंची पेट्रोल की कीमत, दिल्ली में भी Petrol-Diesel के दाम बढ़े