नई दिल्ली. Tripura Riots- त्रिपुरा पुलिस ने राज्य के पानीसागर में एक मस्जिद में आगजनी और तोड़फोड़ के दावों को झूठा करार दिया है. पुलिस ने स्पष्ट किया है कि इस संबंध में सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही तस्वीरों और वीडियो का राज्य में हुई घटना से कोई लेना-देना नहीं है। राज्य पुलिस द्वारा स्पष्टीकरण जारी किए जाने के बाद भी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे पर ट्वीट किया और लिखा, “त्रिपुरा में हमारे मुस्लिम भाइयों के साथ क्रूरता की जा रही है। हिंदुओं के नाम पर नफरत और हिंसा करने वाले हिंदू पाखंडी हैं, हिंदू नहीं। कब तक सरकार अंधी होने का दिखावा करती है?”

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने  किया पलटवार

राहुल गांधी के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने पलटवार करते हुए लिखा, ‘ट्वीट सिर्फ मुसलमानों के लिए ही क्यों? सभी धर्मों के लिए क्यों नहीं? बांग्लादेश के लिए आपका मुंह क्यों नहीं खुला? कश्मीर पर? लखबीर पर? त्रिपुरा पुलिस कह रही है कि कुछ नहीं हुआ और तुमने पूरे देश में झूठ फैलाना शुरू कर दिया। कांग्रेस पार्टी में कभी कोई ‘हमारा हिंदू भाई’ क्यों नहीं लिखता?

वहीं एक अन्य यूजर ने कमेंट किया, ‘फिरोज खान के पोते होते हुए भी आपको फिरोज जहांगीर खान की कभी याद नहीं आती।’

विजेंद्र सिंह ने टिप्पणी की, ‘वैसे, यह अच्छा है, एक दिन कोट के ऊपर जनेऊ दिखाकर और दत्तात्रेय जनजाति को हिंदू कहकर चुनावी प्रथाएं अपने असली रूप में कब तक आईं! आखिर राहुल जी के इकलौते मुस्लिम भाई दंगों में भुगतते हैं, संवेदनाओं को जगाना था, हिंदू हैं गाजर की मूली, क्या फर्क पड़ता है?’ शशिकांत यादव ने लिखा, ‘बांग्लादेश के हिंदुओं को याद नहीं किया।’ एक अन्य यूजर ने लिखा कि पश्चिम बंगाल में जब कश्मीर में हिंदू मारे जा रहे थे तो लोग भाग रहे थे, क्या आपने मुंह में दही डाला? कांग्रेस में जानवर कैसे हैं।

सुनील ने अपने कमेंट में लिखा, “यह आपका सगा भाई है। जब हिंदुओं पर अत्याचार होता है, तो आप जैसे लोग फेविकोल पीते हैं।”

RAS Exam: महिला उम्मीदवार की टीशर्ट की आस्तीन काटी , NCW ने राजस्थान के मुख्य सचिव को भेजा नोटिस

दिल्ली: रोहिणी के बेगमपुर इलाके में एनकाउंटर, एक बदमाश ढेर, दो पुलिसकर्मी जख्मी

Yoga For Womens जिम नहीं जा सकती तो घर पर ही करें ये योग

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर