नई दिल्ली/ दिशा रवि की एक दिन की कस्टडी खत्म होने पर दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया. न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने दिशा की जमानत अर्जी मंजूर कर ली. धर्मेंद्र राणा ने दिशा को सशर्त जमानत दे दी. न्यायाधीश ने दिशा को एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी. 20 फरवरी को तीन घंटे की जमानत की सुनवाई के दौरान, पुलिस ने कहा था कि ‘टूलकिट’ भारत को बदनाम करने और हिंसा भड़काने के लिए डिजाइन किया गया था.

दिशा रवि की एक दिन की कस्टडी खत्म होने पर दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया. न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने दिशा की जमानत अर्जी मंजूर कर ली. धर्मेंद्र राणा ने दिशा को सशर्त जमानत दे दी. न्यायाधीश ने दिशा को एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी. कोर्ट के फैसले पर दिशा के वकील ने यह कहा कि परिवार यह वहन करने में सक्षम नहीं.

दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को रवि को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था. पुलिस ने कहा था कि दिशा का मामले में अन्य आरोपियों निकिता जैकब और शांतनु मुलुक के साथ आमना-सामना कराना है. जैकब और मुलुक सोमवार को जांच में शामिल हुए थे.

पुलिस ने आरोप लगाया था कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन के नाम पर भारत में हिंसा और अशांति फैलाने की साजिश के तहत यह टूलकिट तैयार की गयी. केंद्र के तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से किसान दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं. पुलिस ने आगे कहा कि सह-आरोपियों निकिता जैकब और शांतनु मुलुक के 22 फरवरी को पूछताछ में शामिल होने के बाद वह रवि को हिरासत में पूछताछ के लिये भेजने की मांग करेगी. बंबई उच्च न्यायालय ने मुलुक को 16 फरवरी को दस दिन के लिए ट्रांजिट जमानत दे दी थी.

PM Modi Hooghly Rally: हुगली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा के बाद टीएमसी कार्यकर्ताओं ने रैली स्थल का गंगाजल से किया शुद्धिकरण

Covid-19 Latest News: देश में फिर लौटा कोरोना का खतरा, 17 दिन बाद डेढ़ लाख पार कोरोना एक्टिव केस

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर