हिसार. तेलंगाना की साइबराबाद पुलिस ने हरियाणा  पुलिस के साथ मिलकर हिसार में एक मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी के गिरोह का पर्दाफाश किया है. यह कंपनी पिछले 4-5 सालों से लोगों को अपना शिकार बनाकर करीब 1200 करोड़ रुपए की ठगी कर चुकी है. तेलंगाना पुलिस ने हरियाणा की एसटीएफ के साथ मिलकर आरोपियों को दबोचा है. इस मामले की मास्टरमाइंड की पहचान फ्युचर मेकर लाइफ केयर ग्लोबल मार्केटिंग के चेयरमैन राधे श्याम और डायरेक्टर सुरेंद्र सिंह के रूप में हुई है. इसके साथ ही पुलिस ने कंपनी के 200 करोड़ रुपयों को सीज किया है.

साइबराबाद पुलिस कमीश्नर वीसी सज्जनर के अनुसार, आरोपी राधे श्याम पहले मल्टी लेवल मार्केटिंग कंपनी में काम करता था जिसके बाद उसने अपनी खुद की एक कंपनी शुरु कर दी. राधे श्याम की कंपनी की स्कीम के अनुसार, इसमें एक व्यक्ति को दूसरे व्यक्ति के साथ जुड़कर पूरी चैन बनानी होती. इच्छुक व्यक्ति को जॉइनिंग के लिए 7 हजार 500 रुपए देने पड़ते थे. हालांकि कंपनी जॉइनिंग के बाद ढ़ाई हजार रुपए वापस लौटाने का लालच देती और बाकी बचे हुए पैसों के बराबर की राशि का इस्तेमाल कपड़े और दवाइयां खरीदने का लालच दिया जाता. इसके साथ ही स्कीम के अनुसार, अगर एक व्यक्ति 7200 रुपए कंपनी में इन्वेस्ट करता है तो उसे दो साल में 60 हजार रुपए वापस मिलने का लालच दिया जाता.  

कंपनी की स्कीम के अनुसार नए मेंबर्स जोड़ने पर पुराने मेंबर को कमीशन भी दिया जाता था. खबर के अनुसार, ये लोग बेरोजगार युवाओं, हाउस वाइफ और रिटायर्ड कर्मचारियों को अपना निशाना बनाते थे. पुलिस के अनुसार, यह कंपनी हैदराबाद के ही कई लोगों के साथ करोड़ा रुपए का घोटाला कर चुकी है. इसके साथ ही हरियाणा, दिल्ली, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा में भी यह कंपनी काफी लोगों को अपना शिकार बना चुकी है. जांच में कंपनी के कई बैंकों में खाते पाए गए हैं जिनमें करीब 200 करोड़ रुपए जमा मिले हैं. फिलहाल पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत केस दर्ज किया है.

हिरासत में लिए गए गुजरात के पूर्व IPS अफसर संजीव भट्ट, 22 साल पुराना है मामला

ब्लू वेल चैलेंज गेम और किकी चैलेंज के बाद मोमो चैलेंज वायरल, जानिए क्या है मोमो व्हाट्सऐप सुसाइड गेम