पटनाः अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर को देखते हुए नेताओं की चुनावी चालें भी शुरू हो गई हैं. रविवार को राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) चीफ उपेंद्र कुशवाहा ने बयान दिया था कि यदि यदुवंशियों का दूध औऱ कुशवंशियों का चावल मिल जाए तो खीर बन सकती है. जिस पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि निःसंदेह उपेंद्र जी, स्वादिष्ट और पौष्टिक खीर श्रमशील लोगों की जरूरत है. पंचमेवा के स्वास्थ्यवर्धक गुण ना केवल शरीर बल्कि स्वस्थ समतामूलक समाज के निर्माण में ऊर्जा देते हैं. प्रेमभाव से बनाई गई खीर में पौष्टिकता, स्वाद और ऊर्जा की भरपूर होती है. यह एक अच्छा व्यंजन है.

आपको बता दें कि बीपी मंडल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था कि यदुवंशियों (यादव) के दूध औऱ कुशवंशियों (कोइरी) के चावल मिल जाएं तो खीर बनने में देऱ नहीं लगती. उन्होंने कहा था कि हम लोग साधारण परिवार से आते हैं, ऐसे परिवारों में जिस दिन खीर बनती है तो दुनिया का सबसे स्वादिष्ट व्यंजन माना जाता है. उन्होंने कहा कि खीर में पंचमेवा की जरूरत को अति पिछड़ा, गरीब और दलित-शोषित लोग पूरा करेंगे.

उन्होंने आगे कहा कि खीर में शक्कर शंकर कुमार झा मिलाएंगे. तुलसी दल भूदेव चौधरी के घर से लाए जाएंगे और जुल्लीफार के घर से दस्तरखान मंगाए जाएंगे और फिर सब मिलकर इस स्वादिष्ट खीर का आंद लेंगे. जिस पर आज तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट कर खुशी जताई है. उन्होंने कहा कि निःसंदेह यह एक स्वादिष्ट व्यंजन होगा. 

यह भी पढ़ें- लालू यादव का प्रोविजनल बेल कैंसिल, मुंबई से लौटेंगे रांची जेल, आगे का इलाज रिम्स में

आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव का बड़ा आरोप, मेरी हत्या कराना चाहते हैं बीजेपी-आरएसएस

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App