पटना. बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप अकसर ही अपने बयान या हरकतों के कारण चर्चा में रहते हैं. इस बार वो अपनी पत्नी से तलाक लेने का फैसला करने पर चर्चा में हैं. तलाक लेने का उनका ये फैसला चर्चा में इस कारण है क्योंकि उनकी और ऐश्वर्या राय की शादी को केवल छह महीने ही हुए हैं. तेज प्रताप के पत्नी से तलाक का फैसला लेने के बाद से ही वो चर्चा में रहे. एक बार फिर खबर आई है कि तेज प्रताप अब अपने घर से भी निकल कर दूसरे बंगले में रहने जा रहे हैं. हालांकि इसमें सबसे हैरान करने वाली बात रही की उन्होंने दूसरे घर की मांग बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से की. यहां तक की नीतीश कुमार ने उनकी इस मांग को पूरा भी कर दिया है. हालांकि नीतीश कुमार ने पहले इस बारे में तेज प्रताप के पिता और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव से बात की और फिर तेज प्रताप को रहने के लिए एक बंगला दे दिया.

बता दें कि तेज प्रताप अपनी पत्नी से तलाक लेने का फैसला कर चुके हैं. हालांकि उनके इस फैसले से परिवार वाले खुश नहीं हैं. इसी कारण परिवार और तेज प्रताप के बीच तकरार चल रही है. अब तेज प्रताप ने मां राबड़ी देवी और भाई तेजस्वी यादव से अलग रहने का फैसला कर लिया है. इसके लिए उन्होंने उचित अधिकारियों से बात की लेकिन किसी तरह का कोई परिणाम नहीं निकला. सूत्रों के मुताबिक हार कर तेज प्रताप ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को फोन किया और उनसे पूछा, ‘चाचा, मुझे घर नहीं मिलेगा?’

बता दें कि तेज प्रताप अपनी तलाक प्रतिक्रिया के बीच में हैं और उन्होंने अपने पत्नी और परिवार से बिगड़ते रिश्तों के कारण घर से अलग रहने का फैसला किया. इसी के बाद उन्होंने मुख्यमंत्री से मदद मांगी. पहले खबरें आई थीं कि यादव परिवार तेज प्रताप के तलाक के फैसले से खुश नहीं है. इस कारण परिवार में रार चल रही है. अब तेज प्रताप अपने परिवार के साथ भी नहीं रहना चाहते और उन्होंने अलग घर की मांग उठाई. पहले तेज प्रताप ने अलग घर की मांग राज्य सरकार से दिसंबर में की थी. लेकिन अधिकारियों द्वारा सही जवाब न मिलने पर उन्हें मजबूरन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को फोन करना पड़ा. इसके बाद नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद यादव को फोन करके इस बारे में बात की. लालू यादव के हां करने पर ही नीतीश ने तेज प्रताप को बंगला दिया.

तलाक की अर्जी देने के बाद से ही तेज प्रताप पटना के 10 सर्कुलर रोड स्थित अपने परिवार के घर में नहीं रह रहे हैं. वहां पहले वो अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय और मां राबड़ी देवी के साथ रह रहे थे. उन्होंने घर छोड़ते हुए कहा था कि वो घर वापस तभी लौटेंगे जब उनका परिवार उनके तलाक के फैसले को मान लेगा. एक विधायक के नाते उन्होंने 2 स्ट्रैंड रोड स्थित बंगले की मांग की. तेज प्रताप बिहार की गठबंधन वाली मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार में 20 महीने के लिए स्वास्थ्य मंत्री रहे. लेकिन बिहार में एनडीए की सरकार आने के बाद उन्हें 3, देशरत्न मार्ग पर स्थित अपने बंगले को नोटिस मिलने के बाद खाली करना पड़ा.

इसी के बाद से नीतीश कुमार और यादव परिवार के बीच दूरी आ गई थी. दोनों पहले गठबंधन में एक साथ थे लेकिन एनडीए की सरकार बनने के बाद दोनों ही आमने-सामने आ गए. ऐसे में तेज प्रताप का नीतीश से और नीतीश का लालू प्रसाद यादव से बात करना हैरानी वाली बात रही. वहीं तेज प्रताप ने कहा कि वो अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक लेने के फैसले पर टिके हैं और उनके पिता लालू प्रसाद यादव का आशीर्वाद मेरे साथ है.

Bihar Don Anant Singh No Arms: मुंगेर से ललन सिंह की जमानत जब्त कराने का दावा करने वाले डॉन अनंत सिंह के पास एक भी बंदूक या पिस्तौल नहीं

Congress 134th Foundation Day: कांग्रेस का 134वां स्थापना दिवस आज, जानिए देश के सबसे पुराने राजनीतिक दल से जुड़ी कुछ खास बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App