पटना. लोकसभा 2019 चुनाव के लिए देशभर से सभी पार्टियां तैयारी में जुट गई हैं. इसी के बीच कुछ बागी नेता भी सामने आ रहे हैं तो कुछ पार्टियों में तकरार हो रही है. ऐसा ही बिहार की राजद में भी होने की खबरें आईं. खबर थी की राजद नेता तेज प्रताप यादव और उनके भाई तेजस्वी यादव के संबंधों मे दरार आ रही है. हालांकि एक कार्यक्रम के दौरान तेजप्रताप यादव ने इन सभी अफवाहों पर विराम लगा दिया है.

तेजप्रताप यादव ने अपने पिता और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को सीबीआई द्वारा फंसाए जाने के आरोप को लेकर पार्टी कार्यालय के बाहर एक दिवसीय धरना कार्यक्रम आयोजित किया. इस दौरान उनसे मीडिया द्वारा सवाल किया गया कि बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा तो उन्होंने जवाब में कहा कि तेजस्वी यादव ही मुख्यमंत्री बनेंगे. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ही मुख्यमंत्री बनेंगे इस बात को स्टाम्प पेपर पर लिखना होगा नहीं तो इस बारे में तरह-तरह की अफवाहें उड़ाई जाएंगी. बता दें कि बहुत समय से दोनों भाईयों के बीच तकरार की खबरें आ रही थीं.

इन सभी खबरों को खारिज करते हुए तेजप्रताप ने एक ट्वीट के जरिए जवाब दिया. उन्होंने अपने ट्वीट में विपक्ष बिहार में सत्ताहीन नीतीश कुमार और उनकी पार्टी पर निशाना साधा. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘लोगों के मुद्दे छोड़ कुर्सी पर बैठे अपने आकाओं के इशारे पर भाई – भाई में दरार की मनगढ़ंत कहानियां चलाने वाले चंद लोग कान खोलकर सुनलें. मेरी लड़ाई किसान, महिला और नौजवानों को ठगने वाली जनविरोधी सरकार से है और इनके खिलाफ जंग लड़ूंगा और इन्हें परास्त भी करूँगा. रोक सको तो रोक लो…’ तेजप्रताप ने ट्वीट के जरिए अपने भाई से खराब रिश्तों की अफवाहों को भी खारिज किया है और अगले चुनाव के लिए दूसरी पार्टियों को चुनौती दी है.

Ram Madhav Ayodhya Ram Mandir case: भाजपा महासचिव राम माधव बोले- अयोध्या मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में हो रोजाना सुनवाई, अध्यादेश भी विकल्प

Bhagwat Katha Stopped in UP: यूपी में नमाज के बाद अब रोकी गई श्रीमद्भागवत कथा, मचा हंगामा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App