जयपुरः मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की ‘राजस्थान गौरव यात्रा’ के दूसरे चरण के दौरान जोधपुर में पथराव हुआ. सीएम राजे को लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा. प्रदर्शनकारियों ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिंदाबाद के नारे भी लगाए. पथराव में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. विरोध को देखते हुए सीएम राजे ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने महिला विरोधी कृत्य को अंजाम दिया है लेकिन वह इन सबसे डरने वाली नहीं हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जोधपुर के पीपाड़ में शनिवार रात करीब 10 बजे ‘राजस्थान गौरव यात्रा’ के काफिले पर पथराव किया गया. पथराव में कुछ गाड़ियों को जरूर नुकसान पहुंचा है लेकिन किसी के घायल होने की कोई खबर नहीं है. मौके पर मौजूद पुलिस बल ने स्थिति को काबू में किया. प्रदर्शनकारी अशोक गहलोत जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की.

बताते चलें कि शनिवार को खींवसर से विधायक हनुमान बेनीवाल ने भी सीएम राजे की ‘राजस्थान गौरव यात्रा’ का विरोध किया. अपने समर्थकों के साथ उन्होंने यात्रा को काले झंडे दिखाए. वह लोग सीएम के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जबरन सभा में घुसने लगे. पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर प्रदर्शनकारियों को वहां से खदेड़ दिया. वहां भी पथराव की खबरें मिलीं. पथराव में चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ की कार क्षतिग्रस्त हो गई.

सीएम वसुंधरा राजे ने पत्थरबाजी का जिक्र करते हुए सभा में कहा कि काले झंडे दिखाने वालों और पत्थर फेंकने वालों से किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है. कांग्रेस और गहलोत सिर्फ पत्थर ही फेंक सकते हैं. इस चुनाव में जनता इन्हें सबक सिखाएगी. गौरतलब है कि इसी साल नवंबर-दिसंबर में राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने हैं. सीएम राजे चुनाव से पहले अपनी सरकार की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए ‘राजस्थान गौरव यात्रा’ निकाल रही हैं.

बीजेपी राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव हार सकती है, कांग्रेस बना सकती है सरकार : ABP न्यूज- सी वोटर सर्वे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App