नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार के जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद राज्य की हालात को लेकर विवादित ट्वीट करने वाली जेएनयू की पूर्व छात्र उपाध्यक्ष और जम्मू कश्मीर पीप्लस मूवमेंट पार्टी की नेता शेहला राशिद की गिरफ्तारी की मांग तेजी से सोशल मीडिया पर बढ़ गई है. शेहला राशिद के खिलाफ #ArrestShehlaRashid ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है. दरअसल शेहला राशिद ने अपने ट्विटर हैंडल से कुछ ट्वीट किए हैं जिसमें उन्होंने हालात बताते हुए सुरक्षा बल और सरकार पर निशाना साधा है. शहला राशिद के ट्वीट के बाद यूजर्स ने जमकर प्रतिक्रियाएं देनी शुरु कर दी हैं. भारतीय सेना ने भी शेहला राशिद के सभी दावों को खारिज करते हुए बेबुनियाद करार दिया है. वहीं सुप्रीम कोर्ट के वकील अलख आलोक श्रीवास्तव ने पूर्व छात्र नेता पर नाजुक माहौल में फर्जी खबरे फैलाने के आरोप में अपराधिक मुकदमा और गिरफ्तारी की मांग की है.

जेएनयू की पूर्व छात्र नेता शेहला राशिद को लेकर ट्विटर यूजर दीपक त्रिपाठी ने सुप्रीम कोर्ट के वकील अलख आलोक श्रीवास्तव के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा ” सर इस देशद्रोही पाकिस्तानी एजेंट पर सख्त कार्रवाई करने का सुनिश्चित प्रबंध कीजिए. शेहला राशिद को हमारे जम्मू कश्मीर के भाई बहनों की खुशी बर्दाश्त नहीं हो रही. इसे इसकी राजनीति की दुकान खुलने से पहले बंद होने का सदमा बैठ गया है. आतंकियों से इसके नजदीकी संबंध है. ”

शेहला राशिद को लेकर एक यूजर रहते हैं ” देश के असली दुश्मन तो ये लोग हैं.. सो कोल्ड बुद्धीजीवी,  इसी लिए शिक्षा से भी आतंवादी और मिलिटेंट की सोच नहीं बदल सकती है. 

एक अन्य यूजर कहते हैं ” आतंकवादी की मुंहबोली बहन जो हमेशा देश से गद्दारी करती है, जेएनयू देश द्रोह का अड्डा बनता जा रहा है. 

ट्विटर यूजर मयंक ने शेहला राशिद को लेकर कहा ” इसको सही में सलाखों के पीछे होना चाहिए क्योंकि ये वादी में नफरत फैला रही है. इसका सपना चूर चूर हो गया क्योंकि ये अब नेता नही बन पाएगी और पाकिस्तानी से पैंसों की आवाजाही भी बंद हो जाएगी. जब से वादी को मुक्ति मिली है इसकी मुक्ति छीन गई है. ”’

 ट्विटर पर शेहला राशिद को लेकर पूजा गोस्वामी कहती हैं ” देश की जनता बेवकूफ नहीं है, आजकल सोशल मीडिया का जमाना है जनता के पास हर झूठी हो या सच्ची खबर पहुंच रही है.  तुम चाहे कितनी झूठी अफवाह उड़ा लो, ये पब्लिक है ये सब जानती है.”

Shehla Rashid Allegations Over Jammu Kashmir Situation: जम्मू-कश्मीर में दहशत के शेहला रशीद के दावे को भारतीय सेना ने बताया फर्जी, जेएनयू स्कॉलर की गिरफ्तारी के लिए सुप्रीम कोर्ट में शिकायत दर्ज

Narendra Modi Govt India to Free POK: पीएमओ राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा- पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर को मुक्त करने पर संसद सहमत, हम अपनी जिंदगी में पीओके को भारत में शामिल देखना चाहते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App