नई दिल्ली. कांग्रेस के बड़े मुस्लिम चेहरे और सोनिया गांधी के करीबी कहे जाने वाले शकील अहमद ने राहुल गांधी को एआईसीसी के सीनियर प्रवक्ता पद से इस्तीफा भेजा है. शकील अहमद ने बिहार की मधुबनी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने की घोषणा की है. यह सीट बिहार महागठबंधन की विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के खाते में गई.

शकील अहमद ने कहा है कि उन्होंने राहुल गांधी से बातचीत कर चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी के चिन्ह का आग्रह भी किया है. साथ ही बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शक्ति सिंह गोहिल से इस संबंध में वार्ता हुई है.

शकील अहमद ने मांगा पार्टी चिन्ह
कांग्रेस नेता शकील अहमद ने बताया कि उन्होंने पार्टी से आग्रह करते हुए मांग की है कि जैसे चतरा लोकसभा सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार के खिलाफ आरजेडी ने दोस्ताना मुकाबले के रूप में अपना प्रत्याशी उतारा है. उस तरह पार्टी मुझे कांग्रेस का चिन्ह देकर दोस्ताना मुकाबले में उतरने की अनुमति दे.

शकील अहमद ने कहा कि सुपौल लोकसभा सीट इसका दूसरा उदाहरण है, जहां कांग्रेस उम्मीदवार रंजीत रंजन के खिलाफ आरजेडी ने एक निर्दलीय कैंडिडेट का समर्थन किया है. ठीक उसी तरह पार्टी मुझे निर्दलीय के रूप में समर्थन दे सकती है.

शकील अहमद ने आगे कहा कि चतरा या सुपौल की तरह जो ठीक हो, उसमें पार्टी मेरा सहयोग करे. कांग्रेस नेता ने कहा कि वे मधुबनी सीट से कांग्रेस की तरफ से नामांकन दाखिल करुंगा.

मनमोहन सिंह सरकार में रह चुके हैं केंद्रीय राज्य मंत्री
बता दें कि कांग्रेस के सीनियर प्रवक्ता शकील अहमद को सोनिया गांधी के करीबियों में से एक माना जाता है. साल 2004 में बनी मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार में शकील अहमद आईटी, संचार और गृह मंत्रालय में राज्य मंत्री रह चुके हैं. साथ ही राबड़ी देवी के कार्यकाल में वे बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री का पद भी संभाल चुके हैं.

मधुबनी सीट पर चल रही उथल-पुथल
बिहार की मधुबनी सीट महागठबंधन के लिए सिरदर्द से कम नहीं है. 6 मई को मधुबनी में चुनाव होना है जिसकी नामांकन प्रक्रिया 16 अप्रैल को होगी. इस सीट पर राजद से टिकट न मिलने पर पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहम्मद अली अशरफ फातमी भी महागठबंधन के प्रत्याशी के खिलाफ मधुबनी से चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके हैं.

Sonia Gandhi Nomination Raebareli: पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने रायबरेली में नामांकन दाखिल करने के बाद कहा- 2004 न भूलें पीएम नरेंद्र मोदी

Rabri Devi On Nitish Kumar Tej Pratap Yadav: लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी बोलीं- बिहार के सीएम नीतीश कुमार खुद को पीएम उम्मीदवार के रूप में देखना चाहते थे, तेज प्रताप से घर लौटने की अपील

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App