अहमदाबाद. बिहार के मुजफ्फरपुर के बालिका संरक्षण गृह में अनाथ लड़कियों से रेप के मामले के बाद सुर्खियों में आए ऐसे संस्थानों के बारे में वीभत्स खुलासे हो रहे हैं. बिहार के बाद यूपी के देवरिया और अन्य जगह पर भी शेल्टर होम्स में लड़कियों के उत्पीड़न का मामला सामने आया था. अब नया मामला गुजरात के अहमदाबाद से सामने आ रहा है. अहमदाबाद में एक ट्रस्ट द्वारा चलाए जा रहे अनाथ आश्रम में रहने वाली दो लड़कियों ने आश्रम के एक अधिकारी पर यौन शोषण का आरोप लगाया है.

इसके अलावा तीन अन्य लड़कियों का आरोप है कि आश्रम के सिक्योरिटी गार्ड ने उन्हें पीटा. जिला प्रशासन की एक टीम ने अव्यवस्था की की जांच के लिए इस अनाथ आश्रम में छापेमारी की तब मामला सामने आया. इसके बाद इस आश्रम की 18 लड़कियों को सरकार द्वारा संचालित बाल गृह में रखा गया है. इस मामले में अहमदाबाद वेस्ट महिला पुलिस ने पॉक्सो की विभिन्न धाराओं में अधिकारी अरशद सिद्दीकी और गार्ड के खिलाफ मामला दर्ज किया है. आश्रम का अधिकारी सिद्दीकी अभी हज यात्रा पर देश से बाहर है. वहीं, गार्ड का कहना है कि इन लड़कियों ने तय शेड्यूल के हिसाब से प्रार्थना नहीं की थी.

न्यूज 18 के मुताबिक, इस मामले पर सोशल जस्टिस और एम्पॉवरमेंट राज्य मंत्री ईश्वर परमार ने डिटेल्ड रिपोर्ट मंगवाने की बात कही. उन्होंने कहा कि बच्चियों के उत्पीड़न को रोकने के लिए सभी जिले के कलेक्टरों को अनाथालयों का औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं. बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका संरक्षण गृह में 34 लड़कियों से बलात्कार की पुष्टि हुई थी. इसके बाद से देशभर के बालिका संरक्षण गृहों के औचक निरीक्षण को लेकर सतर्कता बरती जा रही है.

देवरिया और हरदोई के बाद अब प्रतापगढ़ के दो शेल्टर होम से 26 महिलाएं गायब, रजिस्टर में भी गड़बड़ी

एक्शन में सुप्रीम कोर्ट, नरेंद्र मोदी सरकार से मांगी देश के सारे शेल्टर होम्स की जानकारी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App