नई दिल्ली: दिल्ली के नरेला में शुक्रवार रात एक कबाड़ व्यापारी की उसकी दुकान के बाहर लोहे के सरिये से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. व्यापारी का मर्डर क्यों किया गया, यह अब तक पता नहीं चल पाया है. पीड़ित परिवार ने हत्या के पीछे लूट का मकसद बताया है. पुलिस ने कहा कि दुकान में भी तोड़फोड़ की गई है. रोहिणी के डीसीपी रजनीश गुप्ता ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है. व्यापारी इंद्रपाल की खून में सनी लाश उनकी दुकान के बाहर से मिली. उन्हीं के पास लोहे का सरिया भी मिला, जिस पर खून लगा हुआ था. शुरुआती जांच के मुताबिक बदमाशों ने सरिया दुकान से ही लिया था.

बता दें कि पिछले कुछ महीनों में देश में इसी तरह की कई घटनाएं देखने को मिली हैं. पिछले महीने उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में उग्र भीड़ ने एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. युवक पर किसान के खेत पर स्थित ट््यूबवेल से कुछ चोरी करने का आरोप था.

यह घटना जिले के छपार थाना क्षेत्र के बिजोपुरा गांव में हुई थी. ग्रामीणों को सूचना मिली थी कि खेत पर स्थित एक ट्यूबवेल पर कोई सामान चोरी कर रहा है. इस बात से उग्र ग्रामीणों की भीड़ खेत पर पहुंच गई और बिना कोई पूछताछ या बातचीत किए मौके पर मिले आरोपी युवक को पीटने लगी. भीड़ में से ही कुछ लोगों ने कृषि यंत्रों से युवक पर वार भी कर दिए, जिससे युवक की मौके पर ही मौत हो गई.

पिछले हफ्ते सर्वोच्च न्यायालय ने केंद्र और राज्यों से रेडियो, टेलीविजन और अन्य मीडिया मंचों पर मॉब लिंचिंग से संबंधित उसके दिशानिर्देशों का व्यापक प्रचार करने को कहा था. अदालत ने अपने दिशानिर्देश में बताया था कि किसी भी प्रकार की भीड़ की हिंसा में संलिप्त होने पर कानून के अंतर्गत गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं.

मणिपुर में मॉब लिंचिंग, बाइक चोरी के शक में भीड़ ने युवक को पीट-पीटकर मार डाला

बिहार में कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाते हुए 5 दिन में 6 मॉब लिंचिंग की घटनाएं

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App