Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

 Green Tea पीने के फायदे जानकर, आज से पीना कर देंगे शुरू

0
Green tea benefits: ग्रीन टी (Green tea) से होने वालों फायदों को लेकर तमाम दावे किए जाते हैं. कुछ लोग कहते हैं कि ग्रीन...

इन सवालों से समझें पूरे गुजरात चुनाव का गणित: क्यों AAP का दिल्ली मॉडल...

0
गाँधीनगर: यदि गुजरात में इस ऐतिहासिक भाजपा जीत के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के अलावा कोई महत्वपूर्ण कारण है, तो वह है...

Himachal Election Result 2022: अन्य के खाते में आई 3 सीटे, जाने किसने की...

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है।कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

हिमाचल से जीतने के बाद कांग्रेस विधायकों की चंडीगढ़ में बैठक, राजस्थान या छत्तीसगढ़...

0
नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक दल की बैठक चंडीगढ़ में होगी। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पहले यहां चंडीगढ़ में जीते हुए विधायक...

Himachal Election Result 2022: कांग्रेस ने मारी बाजी, जाने हर सीट के नतीजे

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है। कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

Patra Chawl Case: संजय राउत की बढ़ी मुश्किलें, 10 अक्टूबर तक बढ़ी न्यायिक हिरासत

मुंबईः शिवसेना सांसद संजय राउत की मुश्किलें बढ़ती दिखाई पड़ रही है। सांसद पात्रा चॉल लैंड स्कैम मामले में अभी न्यायिक हिरासत में हैं। अब अदालत ने उनकी न्यायिक हिरासत को 10 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है।

ईडी ने दाखिल किया चार्जशीट

अदालत ने राउत की जमानत अर्जी और जेल हिरासत में रहने की अवधि के दोनों मामलों को मर्ज कर दिया गय है। अब संजय राउत की रिमांड और जमानत दोनों पर एक ही दिन सुनवाई होगी। अब इस मामले में अगली सुनवाई 10 अक्टूबर को होगी। वही, ईडी ने मामले में चार्जशीट दाखिल किया।

ईडी ने सप्लिमेंट्री चार्जशीट में कहा है कि प्रवीण राउत संजय राउत का करीबी होने के चलते इस प्रोजेक्ट में शामिल किया गया था। साथ ही उसके पास किसी भी महत्वपूर्ण दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने की शक्ति भी थी। प्रवीण को महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (MHADA) के साथ डील करने के लिए लाया गया था, जिसके अंतर्गत उसे संबंधित सरकारी, सेमी गवर्नमेंट और स्थानीय अधिकारियों के साथ मैत्री स्थापित करना था।

1 अगस्त को हुई थी गिरफ्तारी

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने संजय राउत को 1 अगस्त को मुंबई के उत्तरी उपनगरों में एक पुनर्विकास परियोजना से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी परियोजना से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में हुई थी। वहीं सह-आरोपी प्रवीण राउत को कांदिवली में पात्रा चॉल की पुनर्विकास परियोजना में गलत ढंग से आय प्राप्त करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में ईडी ने राउत के परिवार को 1.06 करोड़ रुपये ‘प्रत्यक्ष लाभार्थी’ के रूप में मिलने की बात भी कही थी। जिससे राउत ने इनकार किया है। ईडी ने राउत की पत्नी वर्षा से भी पूछताछ की थी।

यह है पात्रा चॉल केस

शिवसेना सांसद संजय राउत पात्रा चॉल घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फंसे हैं। पात्रा चॉल लैंड स्कैम की शुरूआत 2007 से हुई थी। आरोप लगा है कि महाराष्ट्र हाउसिंग एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ( MHADA) के साथ प्रवीण राउत, गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन और हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड की सांठगांठ से घोटाले को अंजाम दिया गया था। इसमें करीब 1034 करोड़ रूपये के घोटाले का आरोप है। संजय राउत के दोस्त प्रवीण राउत भी इस मामले में सह-आरोपी हैं।

 

Google in China: गूगल ने चीन को दिया बड़ा झटका, बंद कर दी अपनी यह सेवा

Amit Shah:पहले वैष्णो देवी के दर्शन, फिर राजौरी में जनसभा करेंगे अमित शाह, कर सकते हैं बड़ा ऐलान

Latest news