Tuesday, July 5, 2022

महाराष्ट्र सियासी संकट : ‘जल्द सीएम आवास लौटेंगे ठाकरे, गुवाहाटी के 21 विधायकों से साधा संपर्क’ – संजय राउत

मुंबई, सियासी उठापटक के बीच शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि उद्धव सरकार ने असम के गुवाहाटी में मौजूद कुल 21 विधायकों से संपर्क साधा है. जब वह सभी मुंबई लौटेंगे, तो वह उनकी पार्टी के साथ आएंगे. इसके अलावा राउत ने बताया कि जल्द ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी अपने सरकार आवास वर्षा में लौटेंगे. बता दें, बुधवार रात सीएम ठाकरे अपना बोरिया बिस्तर बाँध कर परिवार समेत अपने सरकारी सीएम आवास से निकलकर अपने घर मातौश्री के लिए रवाना हो गए थे.

विधायक चाहेंगे तो तोड़ देंगे गठबंधन – राउत

गुरुवार को हुई प्रेस वार्ता में राउत ने कहा है कि विधायक चाहेंगे तो शिवसेना महाविकास अघाड़ी (MVA) गठबंधन से अलग होने के लिए तैयार है. संजय राउत ने आगे कहा कि “विधायक गुवाहाटी से संदेश न दें. बल्कि वापस मुंबई आकर बात करें, सीएम से चर्चा करें. अगर विधायक चाहते हैं कि हम (MVA) गठबंधन से बाहर आ जाएं तो इसपर भी बातचीत करेंगे. लेकिन सभी विधायकों को आगे आकर सीएम से बात करनी चाहिए.

क्या बोले सजंय राउत?

संजय राउत ने कहा है कि शिंदे के साथ जितने भी मौजूद विधायक हैं उनको अगर लग रहा है कि उनको एनसीपी और कांग्रेस के साथ नहीं रहना है तो आप यहां मुंबई आकर उद्धव ठाकरे के साथ बैठकर चर्चा करें. वह आगे कहते हैं, “हम सत्ता को छोड़ने के लिए तैयार हैं. राउत बोले कि मैं एकनाथ शिंदे और उनके विधायकों को आनेवाले 24 घंटे का समय देता हूं.”

ठाकरे के हाथ से निकल रही है शिवसेना

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे की पार्टी पर पकड़ लगातार कमजोर हो रही है। 35 से अधिक शिवसेना विधायकों के बागी होने के बाद अब सांसदो ने भी मोर्चा खोलना शुरू कर दिया है। जानकारी के मुताबिक 10 से अधिक शिवसेना के सांसद इस समय एकनाथ शिंदे के संपर्क में है और वो भी किसी भी वक्त बगावत कर सकते है।

उद्धव के पास बचे सिर्फ 16 विधायक

बता दें कि शिवसेना विधायकों का लगातार शिंदे गुट में शामिल होना जारी है। शिवसेना, निर्दलीय और छोटे दलों के विधायकों को लेकर इस वक्त एकनाथ शिंदे असम के एक होटल में मौजूद है। जानकारी के मुताबिक शिंदे के पास करीब 40 शिवसेना के और 8 अन्य विधायक मौजूद है। जिसके बाद बाद अब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खेमे में सिर्फ 16 विधायकों के होने की खबर है।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news

Related news

<1-- taboola end -->