लखनऊः समाजवादी पार्टी (सपा) से राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन करा चुकी जया बच्चन एक नया रिकॉर्ड अपने नाम करने वाली हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 23 मार्च को होने वाले चुनाव में अगर वह एक बार फिर राज्यसभा सांसद चुनी जाती हैं तो वह सबसे धनी सांसद बन जाएंगी. सपा प्रत्याशी जया बच्चन की ओर से दिए गए हलफनामे के मुताबिक, उनके पास एक हजार करोड़ रुपये की संपत्ति है. वर्तमान में बीजेपी के राज्यसभा सांसद रवींद्र किशोर सिन्हा सबसे अमीर सांसद माने जाते हैं. सिन्हा ने साल 2014 में राज्यसभा के नामांकन के समय अपनी संपत्त‍ि 800 करोड़ रुपये बताई थी.

तीन दिन पहले जया बच्चन ने लखनऊ में सपा की ओर से पर्चा दाखिल किया था. इस दौरान उनके साथ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी और सांसद डिंपल यादव और सहाराश्री सुब्रत रॉय भी मौजूद थे. नामांकन भरते समय जया बच्चन ने एफिडेविट में अपनी संपत्त‍ि एक हजार करोड़ रुपये घोषित की. बताते चलें कि नामांकन के समय प्रत्याशी की संपत्ति में उसके जीवनसाथी (पति या पत्नी) की संपत्त‍ि भी जोड़ी जाती है. पिछले 6 वर्षों में जया बच्चन की संपत्ति में दोगुना इजाफा हुआ है. साल 2012 में उन्होंने अपनी संपत्त‍ि 493 करोड़ रुपये बताई थी. उस समय बच्चन परिवार की अचल संपत्ति 152 करोड़ रुपये थी. पिछले 6 साल में यह तीन गुना बढ़कर 460 करोड़ रुपये पहुंच गई है. वहीं बच्चन परिवार की चल संपत्ति 343 करोड़ से बढ़कर 540 करोड़ रुपये पहुंच गई है.

बच्चन दंपति के पास करीब 13 करोड़ रुपये कीमत की 12 गाड़ियां हैं, जिनमें एक रॉल्स रॉयस, तीन मर्सिडीज, एक पोर्श और एक रेंज रोवर शामिल है. अमिताभ बच्चन के पास एक टाटा नैनो कार और एक ट्रैक्टर भी है. बच्चन परिवार के पास 4 करोड़ रुपये की घड़ियां हैं. ज्वैलरी की बात करें तो हलफनामे के मुताबिक, जया बच्चन से ज्यादा अमिताभ बच्चन के पास ज्वैलरी है. अमिताभ के पास 36 करोड़ रुपये तो जया बच्चन के पास 26 करोड़ रुपये की ज्वैलरी है. जया बच्चन के नाम पर लखनऊ के काकोरी इलाके में 2.2 करोड़ रुपये की 1.22 हेक्टेयर कृषि भूमि है. जबकि अमिताभ के नाम पर बाराबंकी के दौलतपुर इलाके में 5.7 करोड़ रुपये मूल्य के 3 प्लॉट हैं. नोएडा, भोपाल, पुणे, अहमदाबाद और गांधीनगर में भी बच्चन दंपति की संपत्ति है. दंपति फ्रांस के ब्रिगनोगन प्लेज में 3,175 वर्ग मीटर की एक आवासीय प्रॉपर्टी के भी मालिक हैं.

जया बच्चन ने सपा से किया राज्यसभा के लिए नामांकन, डिंपल यादव-सुब्रत रॉय सहारा भी रहे मौजूद

सांसदों को देखकर तिलमिला गए उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, बोले- यह संसद है, बाजार नहीं

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App