लखनऊ: यूपी के गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को मिली जीत को वरिष्ठ सपा नेता व पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने ऐतिहासिक बताया है. शिवपाल यादव ने कहा है कि मैं सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने के लिए विपक्षी एकता का पैरोकार रहा हूं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर अखिलेश यादव ने साल 2017 के विधानसभा चुनावों में ऐसी एकता बनाई होती तो वे फिर सूबे के मुख्यमंत्री होते. इसके साथ ही सारी नाराजगी दूर करते हुए भतीजे अखिलेश को शिवपाल ने जीत की बधाई दी है.

गौरतलब है शिवपाल यादव पिछले 4 दिनों से मॉरीशस में हैं जहां वे स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल होने पहुंचे थे. वहां से टेलीफोन पर बातचीत करते हुए शिवपाल यादव ने जीत की खुशी जाहिर करते हुए इसे ऐतीहासिक बताया. फोन पर उन्होंने कहा कि सूबे के मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्री के क्षेत्रों में मिली जीत समाजवादी पार्टी के लिए काफी महत्वपूर्ण है. वहीं उन्होंने जया बच्चन पर नरेश अग्रवाल द्वारा की गई टिप्पणी की निंदा करते हुए गलत करार दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वे पहले भी कह चुके हैं कि नरेश अग्रवाल एक कलंक हैं और उनके भाजपा में जाने से समाजवादी को कलंक से मुक्ति मिल गई.

बता दें कि उत्तर प्रदेश की फूलपुर और गोरखपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव के परिणाम आ चुके हैं. समाजवादी पार्टी (सपा) ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से दोनों सीट छीन ली हैं. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जीत का श्रेय पार्टी कार्यकर्ताओं को तो दिया ही साथ ही उन्होंने बीएसपी सुप्रीमो और बसपा कार्यकर्ताओं को भी चुनाव में सहयोग के लिए धन्यवाद दिया. तमाम विपक्षी दल इस जीत के लिए सपा और बसपा को बधाई दे रहे हैं. वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अखिलेश यादव और मायावती को बधाई देते हुए इसे ‘बीजेपी के अंत की शुरूआत’ बताया है.

UP उपचुनाव नतीजेः गोरखपुर में बुआ-भतीजे की दमदार जोड़ी ने ऐसे ढहाया योगी का मजबूत किला

फूलपुर-गोरखपुर जीत के बाद अखिलेश यादव बोले- यूपी उपचुनाव में जीता का बड़ा राजनीतिक संदेश निकलता है

UP उपचुनाव 2018: एक साथ सड़क पर उतरे सपा-बसपा समर्थकों ने लगाये बुआ-भतीजा जिन्दाबाद के नारे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App