लखनऊ: समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कल लखनऊ में ईवीएम के मुद्दे पर एक सर्वदलीय बैठक बुलाई. इस बैठक में आप नेता गौरव माहेश्वरी ने कहा कि ईवीएम में लगातार अलग-अलग राज्यों के चुनावों के दौरान गड़बड़ियां पाई जा रहीं हैं. ऐसे में साफतौर पर इसे लोकतंत्र खत्म करने की साजिश माना जा सकता है. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के भिंड-मुरैना में भी ईवीएम में गड़बड़ी पाई गई थी, जिसमें किसी भी पार्टी को वोट देने पर वोट भाजपा को ही जा रहा था. आप नेता ने कहा कि आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी संजय सिंह बार-बार ये सवाल उठाते रहे कि हर बार ईवीएम में गड़बड़ी होने पर वोट भाजपा को ही क्यों जाता है. आप नेता ने कहा कि आप विधायक सौरभ भारद्वाज दिल्ली विधानसभा में ईवीएम को हैक करने का लाइव डेमो पहले ही दिखा चुके हैं.

बता दें कि मार्च में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों के परिणाम आने के बाद ईवीएम में गड़बड़ी होने की बात सबसे पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने जोर-शोर से एक रैली करके उठाई थी. मायावती ने चुनावों को रद्द कर बैलेट पेपर से दोबारा मतदान कराने की अपील चुनाव आयोग से की थी. इसके बाद अन्य विपक्षी दलों ने भी बसपा सुप्रीमों के सुर में सुर मिलाते हुए बैलेट पेपर से मतदान कराने की बात को दोहराया था. लखनऊ में बुलाई गई इस सर्वदलीय बैठक में आम आदमी पार्टी की ओर से प्रतिनिधि के तौर पर गौरव माहेश्वरी और नीरज श्रीवास्तव शामिल हुए.

मतगणना से पहले तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया था EVM हैकिंग का फर्जी लेटर !

इवीएम विवाद पर बोले अमित शाह- EVM भाजपा लाई है क्या?