अयोध्या. राम मंदिर मामले को लेकर साध्वी प्राची ने भारतीय जनता पार्टी को चेतावनी दी है. रामलला के दर्शन करने पहुंची साध्वी ने कहा कि ‘राम मंदिर हमारा था, हमारा है और हमारा ही रहेगा. उन्होंने आगे कहा कि कोई भी ताकत राम मंदिर को बनने से नहीं रोक पाएगी. किसी ने अपनी मां का दूध नहीं पिया है जो राम मंदिर बनाने से रोक सके. साध्वी ने आगे कहा कि हम कोर्ट के आदेश का इंतजार कर रहे हैं क्योंकि हम कोर्ट का पूरा सम्मान करते हैं. राम मंदिर 2019 तक बन जाना चाहिए. सबसे पहले राम मंदिर बनना चाहिए चाहे इसके लिए 2019 लोकसभा चुनाव टालना पड़े. वहीं बीजेपी के लिए उन्होंने कहा कि अगर राम मंदिर का निर्माण 2019 से पहले नहीं हुआ तो मैं समझती हूं कि भगवान राम वो कर सकते हैं जिसकी कल्पना भी किसी ने नहीं की होगी.

अयोध्या में पत्रकारों से बातचीत करते हुए साध्वी प्राची ने कहा कि रामभक्त जिस दिन अंगड़ाई लेकर खड़ा होगा उस दिन मंदिर का निर्माण हो जाएगा. साध्वी ने कहा कि उनका जीवन राम भगवान को समर्पित है. उन्होंने आगे कहा कि ‘मेरे प्रभु टाट में हैं और ठाठ से नेता एसी में सो रहे हैं. रामभक्तों की सरकार परीक्षा ना ले. वहीं साध्‍वी प्राची ने एससी-एसटी एक्‍ट को लेकर कहा कि सरकार की ओर से इस पर विचार किया जा रहा है. साध्वी ने आगे कहा कि कुछ लोग समाज को तोड़ना चाहते हैं. देश में गलत राजनीति की जा रही है, अगडे़-पिछड़ों को राजनीति का मुद्दा बनाया जा रहा है जो बिल्कुल गलत है. देश में सभी को बराबरी का हक और सम्मान मिलना चाहिए और इसी को लेकर ही यह कानून बनाया गया है.

वहीं रामलाल के दर्शके बाद लौटते समय प्राची साध्वी सुरक्षाकर्मियों पर भड़क गईं. साध्वी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में प्रशासन के लिए प्रशिक्षण जरूरी है. चाहे अधिकारी छोटा हो या बड़ा सभी को नैतिकता का पाठ पढ़ाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि जब उन्हें दिक्कत हो सकती है तो आम श्रद्धालु से कैसा बर्ताव होता होगा. हालांकि साध्वी ने पत्रकारों से इस बारे में कुछ नहीं बताया और कहा कि यह सब मैं पत्रकारों से नहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बताऊंगी.

मुस्लिम महिलाओं से बोलीं साध्वी प्राची- ट्रिपल तलाक, निकाह और हलाला से बचने के लिए हिंदुओं से करें शादी

साध्वी प्राची ने फिर दिया विवादित बयान, कहा- मुस्लिम महिलाएं, हिंदूओं के बेटों को कहें I Love You

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App