नई दिल्ली. लॉकडाउन के दौरान ही महाराष्ट्र के पालघर के बाद अब उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में धारदार हथियार से दो साधुओं की हत्या कर दी गई. ग्रामीणों ने इस वारदात की सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सूबे की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है.

मिली जानकारी के अनुसार, यह मामला अनूपशहर कोतवाली के पगोना गांव की शिव मंदिर का है. शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि आरोपी नशा करता है और कुछ समय पहले साधुओं ने चिमटा चुराने को लेकर डांट दिया था. बदले की भावना में आरोपी ने रात को सोते समय साधुओं की हत्या कर दी. सुबह ग्रामीण जब गांव पहुंचे तो उन्होंने साधुओं के शवों को देखा.

साधुओं की हत्या पर समाजवादी पार्टी के प्रमुख और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि उप्र के बुलंदशहर में मंदिर परिसर में दो साधुओं की नृशंस हत्या अति निंदनीय व दुखद है. इस प्रकार की हत्याओं का राजनीतिकरण न करके, इनके पीछे की हिंसक मनोवृत्ति के मूल कारण या आपराधिक कारण की गहरी तलाश करने की आवश्यकता होती है. इसी आधार पर समय रहते न्यायोचित कार्रवाई करनी चाहिए.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि अप्रैल के पहले 15 दिनों में ही उप्र में सौ लोगों की हत्या हो गई, तीन दिन पहले एटा में पचौरी परिवार के 5 लोगों के शव संदिग्ध परिस्थितियों में पाए गए. कोई नहीं जानता उनके साथ क्या हुआ. आज बुलंदशहर में एक मंदिर में सो रहे दो साधुओं को बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया गया. ऐसे जघन्य अपराधों की गहराई से जाँच होनी चाहिए और इस समय किसी को भी इस मामले का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए. निष्पक्ष जांच करके पूरा सच प्रदेश के समक्ष लाना चाहिए. यह सरकार की ज़िम्मेदारी है.

Haryana Cash Home Delivery: लॉकडाउन के दौरान हरियाणा में पैसों की भी होगी होम डिलीवरी, इस तरह घर बैठे मंगवाएं कैश

PM Narendra modi Meeting Covid 19 Lockdown: कोरोना वायरस को लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम नरेंद्र मोदी की बैठक, बोले- लंबे समय तक 2 गज की दूरी जरूरी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर