अयोध्या. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का मुस्लिम राष्ट्रीय मंच द्वारा अयोध्या में पहली बार 12 जुलाई गुरुवार को सरयू नदी के तट पर नमाज और कुरान के आयोजन को  आरएसएस ने अफवाह करार दिया है. दरअसल बुधवार दिन में कई बड़ी न्यूज वेबसाइटों ने  इस आयोजन की पुष्टि की थी. साथ में बताया गया कि करीब 1500 मुस्लिम धर्मगुरू पहले सरयू नदी के राम की पैड़ी तट पर वुजु बनाएंगे जिसके बाद नमाज पढ़ी जाएगी. जिसके बाद कुरान खानी की जाएगी यानी उस जगह कुरान में लिखी आयतों को करीब 5 लाख बार पढ़कर सुनाया जाएगा. 

हालांकि, आरएसएस ने ट्वीट करते हुए इस बात की जानकारी दी है. ट्वीट में अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख के हवाले से कहा गया है कि ” राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा अयोध्या में सामूहिक नमाज का आयोजन किया जा रहा है, ऐसा समाचार कुछ प्रचार माध्यमों में आया है. यह पूर्णतया निराधार एवं असत्य है” 

 

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा- गाय खाना, सड़क पर नमाज पढ़ना, मदरसा में बच्चों को पढ़ाना इस्लाम में हराम

अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट से सुब्रमण्यम स्वामी को झटका, पूजा करने संबंधित याचिका पर जल्द सुनवाई से इनकार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App