पटना. बिहार में एनडीए सरकार के गठबंधन से उपेंद्र कुशवाह अपनी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी को अलग करने की तैयारी में हैं. इस बारे में अधिकारिक तौर पर गुरुवार को घोषणा होने की संभावना है. कहा जा रहा है कि उपेंद्र कुशवाह अपने केंद्रीय मंत्री के पद से भी इस्तीफा दे देंगे. उपेंद्र कुशवाह अभी केंद्र सरकार में मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री हैं. सूत्रों की मानें तो उपेंद्र कुशवाह के दिल्ली आकर प्रधानमंत्री से मिलने के बाद उनके इस्तीफे की औपचारिकता पूरी की जाएगी.

बुधवार को उन्होंने पहली बार बतौर केंद्रीय मंत्री अपनी ही केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और बिहार की नीतीश कुमार सरकार की आलोचना की. उन्होंने कहा, ‘एनडीए में आरएलएसपी के होने का मतलब है भाजपा और एलजेपी से गठबंधन. हमारा नीतीश कुमार की जदयू से कोई गठबंधन नहीं है. हम 2014 से एनडीए का हिस्सा हैं और नीतीश पिछले साल ही इसमें शामिल हुए हैं.’ उन्होंने ये भी कहा कि भाजपा केवल राजनीतिक फायदे के लिए मंदिर का इस्तेमाल कर रही है.

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा लोकसभा चुनाव से पहले सीट बंटवारे को लेकर नाराज हैं. उपेंद्र कुशवाहा भाजपा से लोकसभा चुनाव में 3 सीट चाहते हैं हालांकि पार्टी उन्हें केवल 2 सीट देने के लिए तैयार है. इसी बात से उपेंद्र काफी नाराज हैं.  उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि उनकी पार्टी ने उन्हें अधिकृत किया है. राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन में आरएसएलपी के रहने या न रहने का खुलासा वह गुरुवार को मोतिहारी में हो रहे खुला अधिवेशन में करेंगे. इसी के बाद उनके इस्तीफे पर लिए फैसले की घोषणा की जाएगी.

Patna University Election Results: पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव के नतीजे घोषित, जेडीयू के मोहित प्रकाश बने अध्यक्ष, ABVP की अंजना सिंह उपाध्यक्ष

Tejashwi Yadav Bungalow Eviction: भारी पुलिस बल लेकर तेजस्वी यादव का बंगला खाली कराने पहुंचे अधिकारी, गेट पर लगा पर्चा देख भौचक्के रह गए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App