जयपुर. राजस्थान भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद मदन लाल सैनी का 75 साल की उम्र में निधन हो गया है. पिछले कुछ समय से बीजेपी के दिग्गज नेता मदन लाल सैनी बीमार चल रहे थे. तबियत बिगड़ने पर उन्हें दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां सोमवार उन्होंने अंतिम सांस ली. मदन लाल सैनी को साल 2018 के जून माह में ही प्रदेश बीजेपी का प्रभार सौंपा गया था. मदन लाल सैनी के निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राजस्थान सीएम अशोक गहलौत और मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान समेत कई बड़े नेताओं ने शोक व्यक्त किया है.

सैनी जनसंघ के समय से राजनीति में सक्रिय मदन लाल सैनी साल 1952 में आरएसएस संगठन से जुड़ें. जिसके बाद छात्र राजनीति में सक्रीय रहते हुए उन्होंने एबीवीपी के प्रदेश मंत्री का कार्यभार संभाला. इतना ही नहीं, साल 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के देश में आपातकाल घोषित करने के बाद मदन लाल सैनी उन बागियों में थे जो एमरजेंसी के विरोध में जेल भी गए थे. साल 1990 में मदन लाल सैनी ने राजस्थान के झुंझुंनू जिले की उदयपुरवाटी विधानसभा से बीजेपी के टिकट से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की.

विधायक बनने के बाद मदन लाल सैनी भाजपा में प्रदेश महामंत्री और अनुशासन समिति के सदस्य भी रहे. साल 2018 में उन्हें प्रदेश बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया. दरअसल मदन लाल सैनी राजस्थान की तत्कालीन सीएम वसुंधरा राजे के भी काफी करीबी माने जाते थे. पिछले साल राजस्थान में बीजेपी के नए अध्यक्ष को लेकर काफी राजनीतिक माथापच्ची चली जिसके बाद मदन लाल सैनी के नाम पर हाई कमान और प्रदेश कमिटी ने अपनी सहमति बनाई.

Rajasthan Barmer Pandal Collapse Mishap: राजस्थान के बाड़मेर में तेज आंधी का कहर, पंडाल गिरने से 16 लोगों की मौत और 50 घायल, पीएम नरेंद्र मोदी ने जताया शोक, सीएम अशोक गहलोत ने किया मुआवजे का ऐलान

Sansad Adarsh Gram Yojana: जानें क्या है सांसद आदर्श ग्राम योजना एसएजीवाई, ग्रमीण इलाके के लोग कैसे ले सकते हैं इस योजना का लाभ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App