नई दिल्लीः कांग्रेस की तेजतर्रार नेता रागिनी नायक अक्सर न्यूज चैनलों पर पार्टी का मजबूती से पक्ष रखते हुए नजर आती हैं. छात्र जीवन से ही राजनीति में
कदम रखने वाली रागिनी दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन (DUSU) की अध्यक्ष रह चुकी हैं. रागिनी कांग्रेस के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) की राष्ट्रीय महासचिव रह चुकी हैं. रागिनी दिल्ली कांग्रेस की प्रवक्ता भी रह चुकी हैं. नीचे देखिए, रागिनी नायक की फोटो प्रोफाइल.

21 सितंबर, 1982 को मध्य प्रदेश के जबलपुर में रागिनी का जन्म हुआ था. रागिनी की माताजी का नाम रंजना नायक और पिता का नाम मनोहर नायक है.
उनकी एक बहन (केतकी नायक) और भाई (आनंद नायक) भी है.

रागिनी का परिवार देश की आजादी में अपना योगदान दे चुका है. रागिनी की पढ़ाई जबलपुर और दिल्ली से हुई है.

रागिनी दिल्ली यूनिवर्सिटी से इंग्लिश ग्रेजुएट हैं. डीयू की छात्रा रहते हुए उन्होंने छात्र राजनीति में कदम रखा और NSUI में शामिल हुईं.

रागिनी साल 2005-06 में दिल्ली यूनिवर्सिटी की अध्यक्ष चुनी गईं. इसके बाद उन्हें NSUI का राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त किया गया. रागिनी ने छात्र राजनीति में संगठन को मजबूत करने का हर संभव प्रयास किया.

2013 में उन्होंने डीयू ग्रेजुएट अशोक बसोया से शादी कर ली. अशोक दिल्ली यूनिवर्सिटी के वाइस प्रेसिडेंट रह चुके हैं.

रागिनी और अशोक की शादी में उन्हें आशीर्वाद देने तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी पहुंचे थे. अशोक बसोया साल 2017 में कांग्रेस के टिकट पर निगम पार्षद पद का चुनाव भी लड़ चुके हैं.

ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद रागिनी ने कांग्रेस जॉइन कर ली. उनकी काबिलियत को देखते हुए ही साल 2014 में उन्हें दिल्ली प्रदेश कांग्रेस का प्रवक्ता बनाया गया.

2014 लोकसभा चुनाव के दौरान रागिनी न्यूज चैनलों पर मजबूती से कांग्रेस का पक्ष रखते हुए नजर आती थीं. रागिनी दिल्ली विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुकी हैं.

कांग्रेस की ओर से पार्टी को मजबूती देने के लिए साल 2015 में गठित 10 सदस्यीय पैनल में रागिनी नायक का भी नाम शामिल था.

रागिनी आज भी छात्र राजनीति से कांग्रेस पार्टी में शामिल होने वाले युवाओं को समाजसेवा के लिए प्रेरित करती हैं. वह अक्सर पार्टी के सभी कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती हैं. उन्नाव और कठुआ कांड पर हाल में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने दिल्ली में देर रात प्रदर्शन किया था. उस दौरान रागिनी ने भी प्रदर्शन में हिस्सा लिया था.

पूर्व गृह मंत्री शिवराज पाटिल बोले, कोई भी धर्म नहीं करता आतंकवाद का प्रचार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App