चंडीगढ़ः पंजाब के तकनीकी शिक्षा मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने शहर के पॉलिटेक्निक कॉलेज में पोस्टिंग देने का नया तरीका निकाला है. यह तरीका साल 1975 में आई फिल्म ‘शोले’ में जय (अमिताभ बच्चन) अक्सर अपने दोस्त वीरू (धर्मेंद्र) पर आजमाते थे. यह तरीका है सिक्का उछालकर टॉस करते हुए फैसला करने का. दरअसल पंजाब के टेक्निकल एजुकेशन मिनिस्टर चन्नी ने भी कुछ ऐसा किया. उन्होंने सिक्का उछालकर मैकेनिकल लेक्चरार कैंडिडेट्स को मेरिट के आधार पर नहीं बल्कि टॉस जीतने वाले शख्स को मनचाही पोस्टिंग देने का फैसला किया.

मिली जानकारी के अनुसार, मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने पॉलिटेक्निक कॉलेज में होने वाली भर्ती के लिए 37 मैकेनिकल लेक्चरार को जॉइनिंग लेटर के साथ पहली पोस्टिंग के लिए अपने दफ्तर में बुलाया था. बाकी सब जगह ठीक रहा लेकिन अंत में दो लेक्चरार के बीच बरेटा में पोस्टिंग को लेकर मामला फंस गया. हुआ यूं कि दो लेक्चरार मनचाही पोस्टिंग पॉलीटेक्निक कॉलेज बरेटा के लिए अड़ गए. जिसके बाद मंत्री जी ने अपनी जेब से सिक्का निकाला और टॉस जीतने वाले को बरेटा में पोस्टिंग देने का फरमान सुनाया.

मंत्री जी ने खुद सिक्का उछाला और अपने दफ्तर में ही हार-जीत का फैसला कर दिया. वहां मौजूद किसी शख्स ने इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया. ऊपर दिए गए वीडियो में आप साफ देख सकते हैं कि मंत्री जी के दफ्तर में किस तरह से हंसी-ठिठोली करते हुए इस बात पर मजा लिया जा रहा है. सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हो गया. बताते चलें कि मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी टोटकों के लिए अक्सर चर्चा में रहते हैं. इससे पहले ज्योतिषी की सलाह पर वह हाथी पर सवार हो गए थे. सूत्रों की मानें तो ऐसा करने से उनका मानना था कि मंत्रिमंडल फेरबदल में उन्हें बड़ा विभाग मिल जाएगा. मंत्री बनते ही उन्होंने सरकारी आवास के सामने पार्क के बीच में रोड बना दी थी. बताया जाता है कि यह भी उनका एक टोटका ही था.

तो बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार की फिल्में हिट होने की ये है वजह

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App