चंडीगढ़. कैप्टन अमरिंदर सिंह के बाद अब पंजाब ( Punjab Congress ) के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी भी नवजोत सिंह सिद्धू को खटकने लगे हैं, एजी व डीजी की नियुक्ति को लेकर अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके सिद्धू ने अभी तक इस्तीफा वापस नहीं लिया है. यही नहीं 15 अक्टूबर को राहुल गांधी से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा था कि सब ठीक हो गया है लेकिन उसी दिन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर 13 मुद्दे गिना दिये थे जिस पर उन्होंने तत्काल काम करने की जरूरत बता दी.

ट्वीट के जरिए चिट्ठी को किया गया सार्वजनिक

उस चिट्ठी को 17 अक्टूबर को ट्वीट के जरिए सार्वजनिक कर दिया. इस चिट्ठी में मंत्रिमंडल गठन में जाति और क्षेत्र का संतुलन न बन पाने का भी मुद्दा उठाया गया है. मतलब साफ है कि सिद्धू राहुल गांधी से मिलकर भी संतुष्ठ नहीं हुए हैं और तेवर में भी नरमी का कोई संकेत नहीं है.

सिद्धू ने पत्र में क्या लिखा

नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया को लिखे पत्र में कहा है कि इसलिए मैं आपसे पत्र में उठाये गये बिंदुओं पर विचार करने और राज्य सरकार को पंजाब के लोगों के हित में काम करने के लिए निर्देश देने का अनुरोध करता हूं. सिद्धू ने पत्र में 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस घोषणापत्र का हिस्सा बनाने को लेकर 13 सूत्री एजेंडा के साथ पंजाब मॉडल प्रस्तुत करने के लिए सोनिया गांधी से मिलने का समय भी मांगा है. राज्य सरकार को निर्देश देने की मांग की जा रही है, इसका मतलब साफ है कि सरकार में उनकी सुनवाई नहीं है.

यह भी पढ़ें :

Ghaziabad : ढाबे पर थूक से रोटी लगाकर रोटी बनाने वाला गिरफ्तार, वीडियो हुआ था वायरल

Madhuri Dixit ने Anniversary पर वीडियो शेयर कर मैजिकल सफर की झलक दिखा