पंजाब. पंजाब की सियासत में बार-बार उठती बगावत के बीच पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने एक बड़ा बयान दिया है। हरीश रावत ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में ही 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी। हरीश रावत ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब के सीएम हैं और अभी तक मुझसे किसी ने पंजाब के नेतृत्व में बदलाव करने की मांग नहीं की है। हरीश रावत ने इस बयान से ये साफ कर दिया है कि पंजाब में सीएम को बदलने की मांग स्वीकार नहीं की जाएगी।

आपको बता दें कि हरीश रावत का ये बयान पंजाब के बागी मंत्री और विधायकों के साथ देहरादून में हुई मीटिंग के बाद दिया है। बुधवार को पंजाब कांग्रेस के बागी विधायक और मंत्री हरीश रावत से मिलने के लिए देहरादून पहुंचे थे। जानकारी के मुताबिक, पंजाब सरकार के चार मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, सुखविंदर सिंह रंधावा, सुख सकारिया व चरनजीत चन्नी और तीन विधायक कुलवीर जीरा, बरीन्द्रजीत पहाड़ा व सुरिंदर धीमान देहरादून के एक होटल में हरीश रावत से मिले।

आपको बता दें कि मंगलवार को पंजाब कांग्रेस के लगभग 30 विधायकों ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के बागी तेवर दिखाए थे। इन विधायकों ने सोनिया गांधी को पत्र लिख राज्य में सीएम को बदलने की मांग की थी और मुलाकात का समय मांगा था। हालांकि इस मांग के बाद कुछ विधायक बदल गए थे और अपनी मांग को वापस लिया था।

Supreme Court: यूपी सरकार ने मुजफ्फरनगर दंगों में बिना किसी वजह बताए 77 केस वापस लिए, सुप्रीम कोर्ट में दी गई जानकारी

यूपी में किसानों के विरोध के कारण 40 ट्रेनें रद्द,फंसे हुए यात्रियों को छोड़ा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर