Saturday, December 10, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

गुजरात में भाजपा की प्रचंड जीत पर क्या बोला विदेशी मीडिया ?

0
गांधीनगर. बीते दिन गुजरात और हिमाचल चुनाव के नतीजे आए हैं. गुजरात में भाजपा ने भारी बहुमत के साथ जीत हासिल की है. भाजपा...

पठान: फिल्म का पहला गाना बेशर्म रंग, गोल्डन बिकनी में दीपिका ने दिखाया जादू

0
मुंबई: शाहरुख खान इन दिनों खूब चर्चा में है और उतनी ही चर्चा में हैं उनकी फिल्म पठान। मेकर्स फिल्म को लेकर दर्शकों को...

गुजरात-हिमाचल के नतीजों का राजस्थान कनेक्शन, गहलोत नपेंगे?

0
नई दिल्ली. गुजरात और हिमाचल प्रदेश चुनाव के नतीजे आ गए हैं, एक राज्य में कांग्रेस को मुंह की खानी पड़ी तो वहीं दूसरे...
vaani kapoor

इस एक्ट्रेस के बेटे ने ही कर दी माँ की हत्या, नदी में फेंका...

0
मुंबई: सोशल मीडिया पर आए दिन कुछ न कुछ वायरल होता रहता है। कुछ दिनों से जुहू में एक 74 वर्षीय महिला की हत्या...

बिग बॉस 16: शहनाज को देखकर सलमान खान को आया सीजन-13 याद, अभिनेत्री से...

0
मुंबई; बिग बॉस 16 के अपकमिंग एपिसोड में शहनाज गिल अपना नया गाना घनी सयानी’ का प्रमोशन करने पहुंची थी। जी हाँ! अभिनेत्री उसी...

10वीं पास शख्स करता है मरीजों की सर्जरी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

तेलंगाना: तेलंगाना में पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। दरअसल, ये डॉक्टर 10वीं पास था, बावजूद इसके ये चार साल से क्लिनिक चलाकर लोगों का इलाज कर रहा था। जब पुलिस ने इस फर्जी डॉक्टर की जांच की तो उन्हें मेडिकल की कोई भी डिग्री या सर्टिफिकेट नहीं मिला। अब पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि पिछले 4 साल में उसने कितने लोगों की सर्जरी की है। अब ये खबर सुनकर हर कोई हैरान हैं।

क्या है मामला?

ये पूरा मामला तेलंगाना के जनगांव जिले का है। पुलिस का कहना है कि यहां एक 40 वर्षीय शख्स खुद को डॉक्टर बताकर लोगों का इलाज करता था। सोमवार को शिकायत मिलने पर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आरोपी के क्लीनिक पर छापा मारा। कार्रवाई के दौरान पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ की। वहीं पुलिस को आरोपी के पास से मेडिकल की कोई भी डिग्री या सर्टिफिकेट नहीं मिला।

चार साल से कर रहा था लोगों का इलाज

जब पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि आरोपी केवल 10वीं कक्षा पास है। एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने एजेंसी को बताया कि आरोपी ने पिछले 4 साल के अंदर कई मरीजों का इलाज किया है। साथ ही वह पाइल्स (बवासीर) और फिस्टुला का इलाज करता था।

ऐसे खोली क्लिनिक

जब पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की तो पता चला कि उसने कई डॉक्टर्स के यहां पर कंपाउंडर के रूप में काम किया था। अलग-अलग डॉक्टरों के यहां काम करने के बाद उसे काफी अनुभव हो गया था। इसी आधार पर उसने अपनी क्लिनिक खोली और लोगों का इलाज करना शुरू कर दिया।

आरोपी पर केस दर्ज

पुलिस ने बताया कि उन्हें शक है कि आरोपी कई लोगों की सर्जरी तक कर चुका है। 10वीं पास ये आरोपी शख्स लोगों की सर्जरी कर चुका है। पुलिस ये पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि ‘उन मरीजों की संख्या कितनी है जिन्होंने इस फर्जी डॉक्टर्स से अपना इलाज करवाया हैं। आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी और भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के अलावा भी केस दर्ज हुए हैं। दरअसल, ड्रग्स एंड मैजिक रेमेडीज एक्ट के प्रावधानों के तहत भी आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

 

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news